Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हाथरस44 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
यूपी के हाथरस में छेड़खानी का विरोध करने पर एक बेटी के पिता की हत्या कर दी गई थी। घटना के 42 घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस मुख्य आरोपी को नहीं पकड़ पाई है। हालांकि अब उसपर एक लाख रुपए का इनाम घोषित किया गया है।  फाइल फोटो - Dainik Bhaskar

यूपी के हाथरस में छेड़खानी का विरोध करने पर एक बेटी के पिता की हत्या कर दी गई थी। घटना के 42 घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस मुख्य आरोपी को नहीं पकड़ पाई है। हालांकि अब उसपर एक लाख रुपए का इनाम घोषित किया गया है। फाइल फोटो

उत्तर प्रदेश के हाथरस में छेड़खानी के आरोपी के लड़की के पिता की हत्या करने के मामले में मुख्य आरोपी पर पुलिस ने 1 लाख का इनाम हुआ घोषित कर दिया है। ADG राजीव कृष्ण ने मुख्य आरोपी गौरव शर्मा पर 1 लाख का इनाम घोषित करने के साथ ही फरार बाकी के दोनो आरोपियों पर भी 25-25 हजार का इनाम घोषित किया है। दरअसल सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद ही पुलिस ने यह कदम उठाया है। सीएम ने मंगलवार को खुद पूरे मामले की जानकारी ली और अधिकारियों को मामले में सख्त से सख्त कार्रवाई करने के आदेश दिए थे।

वहीं सीएम योगी ने इस मामले में सभी आरोपियों पर NSA लगाने के भी आदेश दिए हैं। आरोपी के खिलाफ पिता ने बेटी को छेड़ने की शिकायत की थी जिसके बाद इन आरोपियों ने मिलकर पिता को ही गोलियों से भून डाला था।

पिता ने दर्ज 2018 में दर्ज कराया था केस
युवती के पिता ने जुलाई 2018 में इन आरोपियों के खिलाफ छेड़छाड़ का केस दर्ज कराया था। ये मामला हाथरस के ससनी इलाके का बताया जा रहा है। पुलिस ने 4 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है जिनमें से 2 को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस ने बताया कि आरोपियों की बीवी और चाची की मंदिर में पीड़ित परिवार की महिलाओं से बहस हो गयी थी. ये बहस छेड़छाड़ के इस पुराने केस को लेकर ही हुई थी। इसके बाद आरोपी युवती के पिता से इस मामले में बहस करने के लिए पहुंचे और उसे गोली मार दी। युवती के पिता की अस्पताल ले जाने के दौरान ही मौत हो गई।

क्या है पूरा मामला

अमरीश शर्मा (52) के परिवार ने पुलिस को बताया कि आरोपी गौरव से उनके परिवार की पुरानी रंजिश चल थी। सोमवार को अमरीश की बेटी और गौरव की पत्नी-मौसी गांव के मंदिर में पूजा करने गई थीं। इन महिलाओं में झगड़ा हो गया।

शाम को अमरीश अपने खेत पर आलू की खुदाई करा रहे थे। उनकी पत्नी बेटी के साथ खाना देने के लिए खेत पर आईं थीं। इसी दौरान गौरव अपने तीन दोस्तों के साथ वहां पहुंचा और फायरिंग शुरू कर दी। गोली लगने के बाद अमरीश को इलाज के लिए हाथरस ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *