Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वाराणसीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

वाराणसी के एसएसपी ने मऊ से विधायक मुख्तार अंसारी के सहयोगी के खिलाफ कम धाराएं लगाने के मामले में दारोगा को लाइनहाजिर कर जांच दूसरे को सौंप दी है। -फाइल फोटो।

  • आरोप है कि जांच में दरोगा ने मेराज के खिलाफ दर्ज मुकदमे की धाराएं कम करने का प्रयास

वाराणसी एसएसपी ने कैंट थाने के दारोगा वसीमुल्लाह को लाइन हाजिर कर दिया है। आरोप है कि उन्होंने मुख्तार अंसारी के अंतरराज्यीय गिरोह के सहयोगी मेराज अहमद उर्फ भाई मेराज के खिलाफ दर्ज मुकदमों की धाराएं कम करने का प्रयास किया है। इसके साथ ही मेराज के खिलाफ कैंट थाने में दर्ज मुकदमों की विवेचना दूसरे दारोगा को सौंप दी गई है।

जानकारी के अनुसार, पहड़िया क्षेत्र की अशोक विहार कॉलोनी फेज-एक निवासी मेराज के खिलाफ बीते महीने में कैंट थाने में चार और उससे पहले जैतपुरा थाने में दो मुकदमे दर्ज किए गए थे। मेराज पर फर्जी तरीके से शस्त्र लाइसेंस बनवाने और फिर उसी तरह से उसका नवीनीकरण कराने का आरोप है।

मेराज के मामले की जांच वसीमुल्लाह को सौंपी गई थी
मेराज द्वारा शस्त्र लाइसेंस लेने में गलत पता दिखाने और चालक व रिश्तेदार के नाम लिए गए लाइसेंसी असलहे अपने पास रखने के प्रकरण की जांच दारोगा वसीमुल्लाह को सौंपी गई थी। एसएसपी अमित पाठक की जानकारी में आया कि जांच में दारोगा ने मेराज के खिलाफ दर्ज मुकदमे की धाराएं कम करने का प्रयास किया है तो उन्होंने उसे लाइन हाजिर कर दिया। साथ ही दरोगा के खिलाफ जांच का आदेश दिया है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *