• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Distribution Of Appointment Letters To 36,590 Assistant Teachers, CM Yogi Asked Selected Teachers: Jugaad Is Not Required To Get Job

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लखनऊकुछ ही क्षण पहले

  • कॉपी लिंक

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को सहायक अध्यापकों को नियुक्ति पत्र का वितरण किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि यह मिशन रोजगार के प्रति हमारी प्रतिबद्धता है। यह आगे भी इसी तरह जारी रहेगी।

  • बेसिक शिक्षा विभाग में 69 हजार शिक्षकों का बहुप्रतीक्षित चयन पूरा
  • उत्तर प्रदेश में 31,277 पदों पर पहले चरण में ही हो चुकी है तैनाती

उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा विभाग में बहुप्रतीक्षित 69 हजार शिक्षकों के चयन की प्रक्रिया पूरी हो गई। शनिवार को सीएम योगी ने 36,590 नवनियुक्त शिक्षकों को नियुक्ति पत्र वितरण की प्रक्रिया का शुभारंभ क़िया। मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित कार्यक्रम में 05 नवचयनित युवाओं को मुख्यमंत्री के हाथों नियुक्ति पत्र प्राप्त हुआ, जबकि जिलों में आयोजित कार्यक्रम में सरकार के मंत्री और स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने नियुक्ति पत्र वितरित किए।

सीएम योगी ने कहा कि, 69 हजार शिक्षक चयन की प्रक्रिया को जनवरी, 2020 में ही पूर्ण हो जाना चाहिए था, लेकिन कुछ लोगों ने अपने निजी स्वार्थों और कुत्सित राजनीति से प्रेरित होकर चंदा वसूली कर जैसे-तैसे हाईकोर्ट से सुप्रीम कोर्ट तक इसे उलझाए रखा। लेकिन सर्वोच्च न्यायालय ने उप्र सरकार की रीति और नीति को ही सही माना। अंततः आज यह महत्वपूर्ण चयन प्रक्रिया सम्पन्न हो गई। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह मिशन रोजगार के प्रति हमारी प्रतिबद्धता है। यह आगे भी इसी तरह जारी रहेगी।

चयनित शिक्षकों से पूछा, जुगाड़ की जरूरत तो नहीं पड़ी
नियुक्ति-पत्र वितरण के अवसर पर मुख्यमंत्री ने 05 नवनियुक्त शिक्षकों- सीतापुर की पूजा शुक्ला, बाराबंकी के वीरेन्द्र कुमार मौर्य तथा जफर बेग, रायबरेली की सरिता सिंह, हरदोई की नेहा देवी एवं लखीमपुर खीरी के नवीन राणा को नियुक्ति-पत्र वितरित किए गए। इसके साथ ही, मुख्यमंत्री ने 05 जनपदों के नवनियुक्त शिक्षकों- बदायूँ की भावना सिंह गोण्डा की नमिता सिंह, रामपुर की क्षमा कपूर, हरदोई की ललिता त्रिपाठी एवं महोबा की राखी आर्य से बातचीत भी की।

सीएम योगी ने सभी से हल्के-फुल्के अंदाज में पूछा कि नौकरी के बाद अब ट्रांसफर के लिए कोशिश तो नहीं करेंगे। सभी शिक्षकों ने आवंटित जनपद में सेवा देने में ही खुशी जताई। इससे पहले प्रदेश सरकार द्वारा 16 अक्टूबर, 2020 को 31,227 सहायक अध्यापकों को नियुक्ति पत्र वितरित किए गए थे, जबकि, विगत 23 अक्टूबर, 2020 को माध्यमिक शिक्षा विभाग के अन्तर्गत राजकीय माध्यमिक विद्यालयों के 3,317 चयनित सहायक अध्यापकों को पदस्थापन एवं नियुक्ति पत्र वितरित किए गए थे। प्रदेश सरकार द्वारा पारदर्शी एवं निष्पक्ष भर्ती प्रक्रिया को अपनाते हुए विभिन्न राजकीय सेवाओं में 04 लाख से अधिक अभ्यर्थियों को नौकरियां दी जा चुकी हैं।

मुख्यमंत्री की व्यक्तिगत रुचि से मिली सफलता: बेसिक शिक्षा मंत्री
कार्यक्रम में बेसिक शिक्षा मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. सतीश द्विवेदी ने कहा कि कोविड के इस कालखंड में जबकि दुनिया में लोग नौकरियां खो रहे हैं, उत्तर प्रदेश लाखों युवाओं को नौकरियां दे रहा है। बेसिक शिक्षा विभाग के विद्यालयों में 69 हजार नए शिक्षकों की बहुप्रतीक्षित नियुक्ति प्रक्रिया अगर आज शुचिता और पारदर्शिता के साथ पूरी हो रही है, तो इसका एकमात्र कारण मुख्यमंत्री की व्यक्तिगत रुचि ही है। उन्होंने सभी नवनियुक्त शिक्षकों को बधाई भी दी।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *