• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Kanpur Postal Department Latest News Updates: Deputy Post Master Shiv Kumar Yadav Suspended Over Chhota Rajan And Mafia Munna Bajrangi Postage Stamp In Uttar Pradesh Kanpur

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कानपुर21 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
यह कानपुर डाक विभाग द्वारा जारी टिकट है। इसमें दिख रहा छोटा राजन एक समय मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड रहे दाऊद इब्राहिम की गैंग में शामिल था। राजन अभी दिल्ली की तिहाड़ जेल में है। - Dainik Bhaskar

यह कानपुर डाक विभाग द्वारा जारी टिकट है। इसमें दिख रहा छोटा राजन एक समय मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड रहे दाऊद इब्राहिम की गैंग में शामिल था। राजन अभी दिल्ली की तिहाड़ जेल में है।

  • बीते साेमवार को कानपुर डाक विभाग ने छोटा राजन और मुन्ना बजरंगी की फोटो वाले डाक टिकट जारी किए थे
  • पोस्ट मास्टर जनरल वीके वर्मा की प्राथमिक जांच में डाक सहायक को पूर्व में किया जा चुका है निलंबित

उत्तरप्रदेश के कानपुर में डाक विभाग के डिप्टी पोस्टमास्टर शिवकुमार यादव को निलंबित कर दिया गया है। यह कार्रवाई इंटरनेशनल क्रिमिनल छोटा राजन और बागपत जेल में मारे गए शॉर्प शूटर मुन्ना बजरंगी की फोटो वाले डाक टिकट जारी करने के मामले में हुई है। इससे पहले प्राथमिक जांच में दोषी पाए जाने पर बीते सोमवार को डाक सहायक रजनीश को निलंबित किया गया था। अभी भी कई कर्मियों पर कार्रवाई की तलवार लटक रही है।

प्रधान डाकघर के प्रवर अधीक्षक डाक हिमांशु मिश्रा ने बताया कि कार्य में लापरवाही बरतने का दोषी मानते हुए डिप्टी पोस्ट मास्टर शिव कुमार यादव को निलंबित किया गया है। अभी भी जांच की जा रही है। इस मामले में अगर अन्य कोई भी दोषी पाया जाता है तो उसके खिलाफ भी कड़ी से कड़ी कार्रवाई होगी।

ये आरोप हुए साबित

बता दें कि इस प्रकरण में विभागीय जांच हुई थी। पोस्ट मास्टर जनरल वीके वर्मा को जांच सौंपी गई थी। जांच में साबित हुआ कि डाक सहायक रजनीश की गलती की वजह से इंटरनेशनल क्रिमिनल छोटा राजन व माफिया मुन्ना बजरंगी के डाक टिकट जारी हो गए। इससे विभाग की छवि धूमिल हुई है। वहीं, डिप्टी पोस्ट मास्टर शिव कुमार यादव डाक टिकट बनाने के फॉर्म की सही से जांच नहीं की, जबकि ये उनकी जिम्मेदारी थी।

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, कानपुर डाक विभाग ने माई स्टांप योजना के तहत इंटरनेशनल क्रिमिनल छोटा राजन और बागपत जेल में मारे गए शॉर्प शूटर मुन्ना बजरंगी की फोटो वाले डाक टिकट बीते सोमवार को जारी कर दिए थे। इन टिकटों के जरिए देश में कहीं भी चिट्ठी भेजी जा सकती है। लापरवाही की हद ये है कि टिकट जारी करने से पहले न फोटो की पड़ताल की गई और न ही कोई सर्टिफिकेट मांगा गया। मामला तूल पकड़ने के बाद जांच शुरू हुई थी।

मुन्ना बजरंगी की हत्या हो चुकी, राजन जेल में

माफिया मुन्ना बजरंगी की 9 जुलाई 2018 को बागपत जेल में हत्या कर दी गई थी। उधर, छोटा राजन को 2015 में बाली से गिरफ्तार करके भारत लाया गया था। अभी वह तिहाड़ जेल में है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *