Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लखनऊ6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
कांग्रेस की नेता पंखुड़ी पाठक पर सपा के कार्यकर्ताओं की ओर से की गई अभद्र टिप्प्णी से आहत होकर सपा नेता अनिल यादव ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया। फाइल फोटो - Dainik Bhaskar

कांग्रेस की नेता पंखुड़ी पाठक पर सपा के कार्यकर्ताओं की ओर से की गई अभद्र टिप्प्णी से आहत होकर सपा नेता अनिल यादव ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया। फाइल फोटो

कभी समाजवादी पार्टी की प्रवक्ता रहीं पंखुड़ी पाठक अब कांग्रेस की नेता हैं। शुक्रवार को उन्होंने सोशल मीडिया पर एक कांग्रेस कार्यकर्ता की पोस्ट शेयर कर दी जिसके बाद सपा से लेकर कांग्रेस तक में तूफान मच गया। हालात इतने खराब हुए कि पंखुड़ी के पति जो समाजवादी पार्टी के नेता हैं उन्होंने शनिवार को पार्टी से अपने सभी पदों से इस्तीफा दे दिया। अब सोशल मीडिया पर इस इस्तीफे के साथ साथ पंखुड़ी पाठक की पोस्ट को लेकर राजनीति चल रही है।

क्या मामला है

कांग्रेस नेत्री पंखुड़ी पाठक ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पर अपने कार्यकर्ता की एक पोस्ट शेयर की थी। जिसमें एक फोटो में प्रियंका गांधी किसी पीड़ित परिवार से जमीन पर बैठकर बात कर रही हैं। दूसरी फोटो में अखिलेश यादव सोफे पर बैठकर पीड़ित परिवार से बात कर रहे हैं। इन फोटो का कैप्शन दिया गया था समाजवाद वर्सेस समाजवाद का लिफाफा। पंखुड़ी पाठक का आरोप है कि सपा नेताओं ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया।

अभद्र टिप्पणी से आहत पंखुड़ी पाठक ने हजरतगंज कोतवाली में एक ट्रोलर शुभम यादव के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज करा दिया है। पंखुड़ी का दावा है कि शुभम सपा नेता है। पंखुड़ी पर अभद्र टिप्पणी से आहत सपा नेता अनिल यादव ने आज अपना इस्तीफा पार्टी प्रमुख को भेज दिया है।

क्या कहा है अनिल यादव ने

अनिल यादव का कहना है कि मेरे लिए सपा को छोड़ना बहुत कठिन था। वह भी इसलिए जब आप कॉलेज के समय से ही पार्टी से जुड़े हों। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को भेजे अपने इस्तीफे के बारे में उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया पर उनकी पत्नी और कांग्रेस की सोशल मीडिया इंचार्ज पंखुड़ी पाठक पर सपा नेताओं द्वारा अश्लील टिप्पणी की गई। इसकी जानकारी पार्टी को दिए जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नही हुई और तो और अनिल पर भी चुप रहने का दबाव बनाया गया। इससे आहत होकर उन्होंने अपना इस्तीफा दे दिया है।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *