• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Kanpur Murder Case Latest News And Updates: Father Killed 3 Years Old Child Over Urinating On Bed In Kanpur, Accused Arrested By Hamirpur Police, Uttar Pradesh

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कानपुर24 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

आरोपी संतराम को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।

  • बच्चे की मां ने अपने भाई को घटना बताई, इसके बाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक हैरान करने वाली खबर सामने आई है। यहां एक सनकी पिता ने अपने तीन साल के इकलौते बेटे की बेरहमी से पिटाई के बाद जमीन पर पटक कर हत्या कर दी। बच्चे का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने पिता के बिस्तर पर पेशाब कर दिया था। वारदात के बाद आरोपी ने घर में मौजूद पत्नी और दो बेटियों को धमकी दी कि किसी ने यह बात घर के बाहर पहुंचाई तो पूरे परिवार को खत्म कर दूंगा।

आंखों के सामने दम तोड़ते बेटे को देख मां से रहा नहीं गया। उसने अपने भाई के जरिए पुलिस को जानकारी दी, लेकिन पुलिस के मौके पर पहुंचने से पहले आरोपी परिवार समेत हमीरपुर फरार हो गया। जानकारी मिलने के बाद हमीरपुर पुलिस ने बुधवार रात आरोपी को गिरफ्तार कर कानपुर पुलिस को सौंप दिया।

3 साल के इसी बच्चे को पिता ने जमीन पर पटककर मार डाला।

3 साल के इसी बच्चे को पिता ने जमीन पर पटककर मार डाला।

हमीरपुर का रहने वाला परिवार
हमीरपुर जिले के छानी खुर्द में रहने वाला संतराम प्रजापति मजदूरी करता है। परिवार में पत्नी अनीता, दो बेटी अंजना व खुशी और इकलौता पुत्र रविंद्र (3 साल) था। संतराम कुछ दिन पूर्व ही घाटमपुर स्थित हथेरूआ गांव के समीप स्थित एक ईंट-भट्ठे में मजदूरी करने के लिए आया था। वह परिवार के साथ भट्टे पर कच्चे मकान में रहता था।

घर में सबको पीटा, बेटे को मार ही डाला
अनीता ने बताया कि मंगलवार की सुबह बेटे रविंद्र ने अपने पिता के बिस्तर पर पेशाब कर दिया तो संतराम की नींद खुल गई। वह इतना नाराज हुआ कि उसने बेटे को बेरहमी से पीटना शुरू कर दिया। रोने की आवाज सुनकर पास में सो रही बेटियों की भी नींद खुल गई और वह अपने भाई को बचाने के लिए पिता के आगे हाथ जोड़ने लगीं। संतराम ने उनकी भी पिटाई कर दी। अनीता ने भी बेटे को बचाने का प्रयास किया तो उसे भी मारा पीटा। संतराम ने बेटे को जमीन पर पटक दिया और तब तक पीटा, जब तक उसकी मौत नहीं हो गई।

बैग में शव लेकर गांव गया आरोपी
मौत के बाद संतराम ने एक लोडर में पूरे परिवार को बैठाया और बैग में शव लेकर गांव छानी खुर्द गांव चला गया। उसने धमकी दी थी कि यदि बेटे की हत्या की बात घर से बाहर गई तो परिवार को खत्म कर दूंगा। पत्नी अनीता ने मौका पाकर बुधवार देर शाम अपने भाई अजय को फोन पर पूरा घटनाक्रम बताया। इसके बाद भाई अजय ने अन्य परिजन के साथ गांव पहुंचकर आरोपी संतराम को पकड़कर पीटा और हमीरपुर पुलिस को घटना की सूचना दी। हमीरपुर पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और संतराम को गिरफ्तार कर घाटमपुर पुलिस को सौंप दिया। संतराम पर हत्या का केस दर्ज कर जेल भेज दिया है।

एसपी ग्रामीण बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि हमीरपुर पुलिस ने घटना की जानकारी घाटमपुर पुलिस को दी थी। जिस पर एक टीम ने हमीरपुर जाकर संतराम को गिरफ्तार कर बच्चे के शव को कब्जे में लिया। संतराम ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया है। उस पर हत्या का केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *