वाराणसी6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

एनजीटी की गाइडलाइन को पालन करने का जिलाधिकारी ने दिया निर्देश। 

  • वाराणसी में जिलाधिकारी ने 30 नवंबर तक पटाखा न बिकने के आदेश को लेकर ACM और CO की संयुक्त टीम बनाया
  • अवैध भंडारण करने वालो के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई का आदेश दिया, सभी तरह के लाइसेंस निरस्त

वाराणसी में नरहरपुरा स्थित पातालपुरी मठ के पीठाधीश्वर महंत बालक दास ने बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर दीपावली पर आतिशबाजी की अनुमति मांगी है। दरअसल, कल NGT के आदेश के बाद शासन ने लखनऊ, वाराणसी समेत 12 जिलों में पटाखों पर प्रतिबंध लगा दिया है।

हिंदुओं की संस्कृति को खत्म होने से बचाएं

महंत बालक दास ने कहा सरकार भव्य राम मंदिर का निर्माण करा रही है। वहीं, सरकार भगवान राम से जुड़े त्योहार दीपावली में पटाखों पर प्रतिबंध लगा रही है। हिंदू संस्कृति पर कुठाराघात न किया जाए। हमने मांग किया है कि एक दिन के लिए प्रतिबंध हटा दिया जाए।

एक दिन की आतिशबाजी से प्रदूषण नहीं फैलता। बड़ी-बड़ी फैक्ट्रियों से निकलने वाला धुआं और केमिकल पर्यावरण को दूषित कर रहा है। दीपावली हमारे भगवान से जुड़ा पर्व है। इसको खत्म न किया जाए। इससे जुड़े कारोबारी जो पटाखे मंगा चुके है, उनके बारे में भी सरकार को सोचना चाहिए।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *