Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लखनऊ23 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
UP की राजधानी में एक आत्महत्या के मामले में परिजन एक महिला IPS के खिलाफ मामला दर्ज कराने पहुंचे हैं। अभी उनका मामला दर्ज नहीं हो पाया है। - Dainik Bhaskar

UP की राजधानी में एक आत्महत्या के मामले में परिजन एक महिला IPS के खिलाफ मामला दर्ज कराने पहुंचे हैं। अभी उनका मामला दर्ज नहीं हो पाया है।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बुधवार को थाना अलीगंज अंतर्गत आने वाले रैदास मंदिर पर बनी रेलवे क्रॉसिंग पर सुसाइड करने वाले विशाल सैनी का मामला अब तूल पकड़ रहा है। गौरतलब है कि मृतक विशाल सैनी के पास से एक सुसाइड नोट मिला था। जिसमें उन्होंने ADSP प्राची सिंह पर संगीन आरोप लगाए थे। अब परिजन IPS प्राची पर मुकदमा दर्ज कराने की मांग कर रहे हैं। तहरीर लेकर परिजन थाने भी पहुंचे हैं। हालांकि उनका मुकदमा दर्ज होने की उम्मीद कम ही है।

IPS को पहले ही लखनऊ पुलिस दे चुकी है क्लीन चिट

वहीं बुधवार को जैसे ही मृतक विशाल सैनी के पास से सुसाइड नोट बरामद हुआ। पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। सुसाइड नोट में सीधे-सीधे IPS प्राची सिंह पर आरोप था कि उन्होंने विशाल को देह व्यापार के धंधे में फंसा दिया था। जिसके कारण उसे जेल जाना पड़ा और वह डिप्रेशन में चला गया था लेकिन देर शाम लखनऊ पुलिस कमिश्नरेट से IPS प्राची सिंह को क्लीन चिट मिल गई।

पुलिस कमिश्नरेट की ओर से जारी बयान में कहा गया कि प्राची सिंह की तरफ से जो भी कार्रवाई की गई वह सही थी। यही नहीं पुलिस कमिश्नरी की तरफ से कहा गया कि सुसाइड नोट में जो भी आरोप IPS प्राची सिंह पर लगाए गए हैं। वह निराधार हैं। जो भी कार्रवाई की गई थी, वह नियमानुसार ही की गई थी।

क्या कहना है परिजन का

विशाल सैनी के पिता अर्जुन का कहना है कि बेटा हमारा सचिवालय में काम करता था। पुलिस ने उसे जबरन देह व्यापार में फंसा दिया। जिसके बाद से वह डिप्रेशन में रहता था। हमारी मांग है कि हमारा मुकदमा दर्ज कर जांच की जाए।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *