Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वाराणसीएक मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
मंगलवार को छात्रों ने नीता अंबानी को लेकर विरोध प्रदर्शन किया था।  - Dainik Bhaskar

मंगलवार को छात्रों ने नीता अंबानी को लेकर विरोध प्रदर्शन किया था। 

  • मीडिया एजेंसी द्वारा ट्वीट कर रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की ओर से कहा गया कोई प्रस्ताव नहीं मिला

नीता अंबानी को BHU में विजिटिंग प्रोफेसर बनाने को लेकर प्रस्ताव पर विवाद छिड़ गया हैं। बुधवार को BHU द्वारा लेटर जारी करते हुए कहा गया कि नीता अंबानी को विश्वविद्यालय के किसी भी संकाय/विभाग/केन्द्र में विज़िटिंग प्रोफेसर नियुक्त करने या शिक्षण की कोई भी ज़िम्मेदारी देने संबंधी कोई भी आधिकारिक निर्णय विश्वविद्यालय प्रशासन ने नहीं लिया है और न ही ऐसा कोई प्रशासनिक आदेश जारी किया गया है।

मीडिया एजेंसी द्वारा ट्वीट कर जानकारी दिया गया

एजेंसी द्वारा ट्वीट करके रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के प्रवक्ता ने जानकारी दिया कि ने कि खबर झूठा हैं। कोई प्रस्ताव नहीं मिला हैं। वही सामाजिक विज्ञान संकाय के डीन प्रो कौशल किशोर मिश्रा ने कहा जो लेटर वहां भेजा गया था। वो वाइस चांसलर के पास दे दिया गया हैं। बाकी किसी मुद्दे पर कुछ नहीं कह सकता।

क्या था पूरा मामला

BHU के सामाजिक विज्ञान संकाय के अंतर्गत महिला अध्ययन व विकास केंद्र में विजिटिंग प्रोफेसर बनाने के प्रस्ताव को लेकर 12 मार्च को लेटर नीता अंबानी को भेजा गया था। जिसका छात्रों द्वारा विरोध किया गया। VC के आश्वासन के बाद कि नीता अंबानी को विजिटिंग प्रोफेसर नहीं बनाया जा रहा है, तब कल छात्रों का विरोध समाप्त हुआ। डीन प्रो कौशल किशोर मिश्रा द्वारा मीडिया में प्रस्ताव भेजने की पुष्टि बयान देकर किया गया था।

BHU के द्वारा जारी लेटर में लिखी बाते

नीता अंबानी को विश्वविद्यालय में विजिटिंग प्रोफेसर नियुक्त करने या शिक्षण की कोई भी जिम्मेदारी देने संबंधी कोई भी आधिकारिक निर्णय विश्वविद्यालय प्रशासन ने नहीं लिया है और न ही ऐसा कोई प्रशासनिक आदेश जारी किया गया है। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में विजिटिंग प्रोफेसर की नियुक्ति के लिए विद्वत परिषद की मंजूरी आवश्यक होती है। इस मामले में न तो ऐसी कोई मंज़ूरी दी गई है और न ही इस प्रकार का कोई प्रस्ताव विद्वत परिषद के समक्ष विचारार्थ प्रस्तुत हुआ है।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *