टॉप न्यूज़


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वाराणसी20 घंटे पहले

वाराणसी के कई इलाकों में लगी आग की वजह से फायरब्रिगेड को आग बुझाने में कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।

  • फाइबर के सामानों की वजह से आग तेजी से फैला, धुंए की वजह से फायरकर्मियों को दिक्कतें आईं
  • पहले मंजिल पर मकान मालिक और तीसरे मंजिल पर रह रहे किरायदारों को पुलिस ने सुरक्षित बाहर निकाला

वाराणसी कैंट थाने के नदेसर इलाके में स्थित गाड़ियों ऐसेसरीज के गोदाम में शनिवार रात 2 बजे संदिग्ध परिस्थितियों में भीषण आग लग गयी। फायरब्रिगेड की 10 गाड़ियों ने 9 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद रविवार सुबह आग पर काबू पाया। फायर फाइटरों को गोदाम से निकलने वाले धुंए ने काफी परेशान किया। बिल्डिंग के ग्राउंड फ्लोर पर राकेश जायसवाल का गोदाम था। फर्स्ट फ्लोर पर मकान मालिक और तीसरे फ्लोर पर किराएदार रहते हैं जिन्हें समय रहते बाहर निकाल लिया गया जिससे बड़ा हादसा होने से टल गया। बताया जा रहा है कि लाखों का नुकसान हुआ है।

गलियों में गोदाम होने की वजह से फायर ब्रिगेड की गाड़ियों को काफी दिक्कत हुआ

नदेसर चौकी इंचार्ज अशोक यादव ने बताया कि मकान मालिक शाहिद ने आग की सूचना कंट्रोल रूम को करीब दो बजे दी थी। नीचे गोदाम और दूसरी मंजिल पर उनके परिवार और तीसरी मंजिल पर किराएदार रहते हैं। सबसे पहले दूसरों के छतों से सीढ़ियां लगाकर सभी को सुरक्षित बाहर निकाला गया। सटी गलियों के कारण फायर ब्रिगेड कर्मियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। घरों की दीवारें भी चटक गयी है। आशंका है कि गोदाम में शॉर्ट सर्किट से ही आग लगी होगी क्योंकि पटाखे की चिंगारी के कहीं से जाने का रास्ता नहीं है।

दूसरी ओर शनिवार रात को चेतगंज थानांतर्गत मलदहिया स्थित एक ऑटो पार्ट्स के गोदाम में भी भीषण आग लग गयी। नरिया निवासी नीरज रूंगटा के गोदाम से लगी आग में लाखों का नुकसान हो गया। आग लगने की वजह स्पष्ट नही हो पाई है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *