Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आजमगढ़7 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

यह फोटो आजमगढ़ की है। यहां टॉप 10 अपराधियों में शामिल कुंटू सिंह का मकान गुरुवार को प्रशासन ढहा दिया।

  • वर्तमान में आजमगढ़ जेल में बंद है आरोपी कुंटू सिंह
  • बुधवार को लखनऊ में हुए गैंगस्टर अजीत हत्याकांड का आरोपी बनाया गया

आजमगढ़ में जिला प्रशासन ने गुरुवार को D-11 गैंग के माफिया ध्रुव सिंह उर्फ कुंटू सिंह का तीन मंजिला मकान ध्वस्त कर दिया। कुंटू सिंह बुधवार रात लखनऊ में मऊ के पूर्व ब्लॉक प्रमुख अजीत सिंह की हत्या में मुख्य आरोपी है। आरोप है कि उसके इशारे पर अजीत सिंह को मारा गया है। वर्तमान में कुंटू सिंह आजमगढ़ जेल में बंद है। ध्वस्तीकरण के दौरान पुलिस के शीर्ष अधिकारी मौके पर डटे रहे। इससे पहले प्रशासन ने माफिया कुंटू सिंह के करीब 10 करोड़ रुपए का कॉलेज, भूमि आदि जब्त कर चुकी है।

JCB लगाकर ढहाया गया घर

जिलाधिकारी राजेश कुमार, पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह गुरुवार को पुलिस बल के साथ जीयनपुर कस्बा पहुंचे। यहां माफिया कुंटू सिंह के तीन मंजिला मकान पर JCB चलाकर ध्वस्त करवा दिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि कुंटू का मकान अवैध रूप से नगर पंचायत में बनाया गया था। जिसे आज ध्वस्त किया गया। शांति व्यवस्था खराब न हो, इसके लिए पुलिस बल को तैनात किया गया था।

कुंटू सिंह ने अजीत को धमकाया था

दरअसल, 19 जुलाई 2013 को आजमगढ़ के जीयनपुर बाजार में सगड़ी के पूर्व विधायक सर्वेश सिंह सीपू की उनके आवास के पास ही हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड में मऊ में मोहम्मदाबाद गोहना के पूर्व ब्लॉक प्रमुख अजीत सिंह भी पूर्व विधायक सिपू सिंह की ओर से गवाह थे। सीपू सिंह के भाई संतोष सिंह टीपू की गवाही पूरी हो गई है। अब अजीत सिंह को न्यायालय में इस हत्याकांड की गवाही करनी थी। आरोप है कि अजीत सिंह को कुछ दिन पहले से गवाही न देने की धमकी मिल रही थी। न मानने पर बुधवार रात लखनऊ में अजीत की हत्या कर दी गई। कुंटू सिंह पर इस प्रकरण में केस भी दर्ज किया गया है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *