• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • The Burning Of 70 Feet Of Ravana On The Theme Of ‘Coronavirus Destruction’, The Entire System Was Online In The Corona Era

लखनऊ2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

यूपी की राजधानी लखनऊ में रविवार को कोरोना के साए में इस बार कोविड थीम पर रावण का दहन कर दिया गया। इस मौके पर कई लोग मौजूद थे।

  • डिप्टी सीएम बोले- ऐशबाग रामलीला समिति का मंचन बीते 400 सालों से हो रहा है
  • कहा कि यहां पर मुगलों के समय में भी रामलीला का मंचन हुआ करता था

उत्तर प्रदेश की राजधानी के ऐशबाग रामलीला मैदान में इस बार का सबसे बड़ा 70 फुट के रावण के पुतले का दहन हुआ। पुतला का थीम “कोरोनावायरस नाश” की थीम पर बनाया गया। मुख्य अतिथि के तौर पर उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा समेत अन्य मंत्री मौजूद रहे। रामलीला मैदान के अध्यक्ष ने बताया कि कोरोना काल की वजह से सारी व्यवस्था ऑनलाइन की गई, भव्य आतिशबाजी हुई जिसका घर पर बैठकर लोगों ने आनंद लिया।

उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि ऐशबाग रामलीला समिति का मंचन बीते 400 सालों से हो रहा है। यहां पर मुगलों के समय में भी रामलीला का मंचन हुआ करता था। इस ऐतिहासिक रामलीला समिति के मंचन को देखने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी आ चुके हैं। खुशी है कि कोरोना महामारी के बीच इस ऐतिहासिक रामलीला मंचन और रावण दहन का हुआ। आशा है कि कोरोनावायरस नाश की थीम पर आयोजित या रावण दहन से जल्दी हम लोगों को कोरोनावायरस से मुक्ति मिलेगी। कार्यक्रम में प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी लखनऊ के ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर नवीन अरोड़ा समेत कई लोग पहुंचे।

रानीगंज में 146 साल में पहली बार पुतला दहन नहीं हुआ
कोरोना महामारी के कारण इस बार राजधानी के कई इलाकों में रावण का पुतला दहन नहीं होगा। रानीगंज में 146 वर्षों में पहली बार रावण का पुतला दहन नहीं हुआ। श्रीरामलीला रानीगंज समिति के मीडिया प्रभारी तुषार साहू ने बताया कि इस बार रावण दहन नहीं किया गया। इसके अलावा महानगर की रामलीला, खदरा की रामलीला, रामलीला आलमबाग, रामलीला राजाजीपुरम, रामलीला चौक में भी रावण दहन नहीं हुआ।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *