• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Schools To Open In UP From October 19; Class Will Operate In Two Shifts, Social Distancing Will Have To Be Followed

लखनऊ40 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

यूपी में सोमवार से 9वीं एवं 12वीं तक के स्कूल खोलने की अनुमति सरकार ने दे दी है। हालांकि इस दौरान सरकार ने स्कूलों के लिए कुछ गाइडलाइन भी तय की है।

  • एक दिन में एक कक्षा के अधिकतम 50 प्रतिशत तक विद्यार्थियों को ही बुलाया जा सकेगा
  • उपस्थिति के लिए लचीला रुख अपनाया जाएगा, स्कूल आने के लिए बाध्य नहीं किया जाएगा

उत्तर प्रदेश में सरकार ने कक्षा 9 से 12वीं तक के लिए सोमवार से स्कूल खोले जाने की घोषणा कर दी है। इसके लिए सरकार ने अपनी एसओपी तैयार की है। यहां कंटेनमेंट जोन से बाहर के स्कूल खोले जाएंगे। अभ‍िभावकों की अनुमत‍ि से ही बच्चे स्कूल में आ सकेंगे। एक दिन में एक कक्षा के अधिकतम 50 प्रतिशत तक विद्यार्थियों को ही बुलाया जा सकेगा।

उत्तर प्रदेश के समस्त स्कूल 19 अक्टूबर से खुल जाएंगे इसके संबंध में शिक्षा निदेशालय माध्यमिक के निदेशक विनय कुमार पांडे ने समस्त जिला विद्यालय निरीक्षक को कोविड-19 के नियमों का पालन करने के निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने दो पालियों में स्कूल खोलने के निर्देश दिए हैं कक्षा 9 से 12 तक के क्लास में 9 से 10 के विद्यार्थियों के लिए 8:50 से 11:50 तक तथा द्वितीय पाली में 11वीं एवं 12वीं क्लास के विद्यार्थियों के लिए 12:30 से 3:20 तक कक्षाएं संचालित की जाएंगी।

एक दिन में एक कक्षा के अधिकतम 50 प्रतिशत तक विद्यार्थियों को ही बुलाया जा सकेगा। बाकी विद्यार्थियों को दूसरे दिन बुलाया जाएगा। विद्यालय में उपस्थिति के लिए लचीला रुख अपनाया जाएगा और किसी भी विद्यार्थी को स्कूल आने के लिए बाध्य नहीं किया जाएगा।

सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के साथ, 6 फीट की दूरी में बैठाया जाएगा
विद्यार्थियों के बीच 6 फुट की दूरी रखी जाएगी। हर पाली के बाद स्कूल सैनिटाइज किया जाएगा। स्कूलों में सैनेटाइजर, हैंडवाश, थर्मल स्कैनिंग व प्राथमिक उपचार की व्यवस्था होगी। यदि किसी विद्यार्थी, शिक्षक या अन्य कर्मचारी को खांसी, जुकाम या बुखार के लक्षण होंगे तो उन्हें प्राथमिक उपचार देते हुए घर वापस भेज दिया जाएगा।

  • प्रवेश व छुट्टी के समय गेट पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाया जाएगा। एक साथ सभी विद्यार्थियों की छुट्टी नहीं की जाएगी।
  • स्कूलों में यदि एक से अधिक प्रवेश द्वार हैं तो उनका उपयोग सुनिश्चित किया जाएगा।
  • स्कूल बस या वैन आदि को भी रोज सैनिटाइज करवाया जाएगा।
  • विद्यालय प्रबंधन द्वारा अतिरिक्त मात्रा में मास्क लगाना अनिवार्य है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *