Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लखनऊ9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

मिर्जापुर में तीन बच्चों की हत्या के मामले में थानाध्यक्ष समेत चार पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। सीएम योगी ने पीड़ित परिवार के लोगों से मुलाकात की।

  • योगी ने पूरे मामले में जल्द खुलासा और आरोपी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने में का आश्वासन दिया है

उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में तीन बच्चों की हत्या के मामले में थानाध्यक्ष समेत चार पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। मंगलवार को सीएम योगी से विधायक रत्नाकर मिश्रा के साथ पीड़ित परिवार मिला। उन्होंने पूरे मामले में लापरवाही करने के मामले में लालगंज थानाध्यक्ष हरिश्चन्द्र सरोज समेत 4 पुलिसकर्मी को निलंबित कर दिया है। पूरे मामले में जल्द खुलासा और आरोपी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने में का आश्वासन दिया है।

सीएम योगी ने आर्थिक मदद करने का दिया आश्वासन
मिर्जापुर नगर विधायक रत्नाकर मिश्र ने बताया कि मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी, अपर मुख्य सचिव व डीजीपी की मौजूदगी में मुलाकात हुई। मुलाकात के दौरान ट्रिपल मर्डर केस के परिवार के साथ सीएम योगी ने वार्ता की। पीड़ित परिवार राहुल प्रकाश को सीएम योगी ने आर्थिक मदद एवं हर तरीके से सुरक्षा देने का आश्वासन दिए है।

वहीं इस मामले में लापरवाही बरतने वाले लालगंज थानाध्यक्ष हरिश्चन्द्र सरोज, चौकी प्रभारी लहंगपुर उप निरीक्षक पंकज राय, उप निरीक्षक हैदर अली और हेड कांस्टेबल सुदिष्ट कुमार पांडेय को निलंबित किया है। फिलहाल घटना के 15 दिन बाद भी हत्या आरोपी की गिरफ्तारी पुलिस नहीं कर पाई है।

राज्यसभा सांसद ने सीएम योगी को लिखा था पत्र

मिर्जापुर में तीन बच्चों के शव मिलने के मामले में बीते 5 सितम्बर को कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मिला था। कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के निर्देश पर 5 सदस्य कमेटी ने मिर्जापुर में हुई घटना की जांच कर पूरे मामले में कार्यवाही के लिए राज्यपाल से मिलकर ज्ञापन सौंपा था। जिसमें 30-30 लाख रुपये मुआवजा व दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की थी। वहीं राज्यसभा सांसद व आम आदमी पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी संजय सिंह ने पूरे मामले में कार्रवाई करने को लेकर बीते सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा था।

क्या था पूरा मामला
फिरोजबाद के सिरसागंज थाना क्षेत्र के चंद्रपुरा गांव में 17 मार्च 2019 को 8 साल की नाबालिग के घर नामकरण का कार्यक्रम था। मृतका डीजे पर डांस कर रही थी। उसी दौरान चचेरे भाई शिव शंकर उर्फ़ बंटू ने उसे 10 रुपए का लालच देकर खेत में ले गया।जहां उसके साथ उसने दुष्कर्म किया और फिर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी थी। बच्ची का शव दूसरे दिन सुबह खेत में मिला था। इसके बाद मृतका की मां की तहरीर पर सिरसागंज थाने में शिव शंकर उर्फ बंटू पुत्र अतर सिंह के ऊपर नामजद एफआईआर दर्ज की गई थी।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *