बहराइच32 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

बहराइच के पुलिस अधीक्षक विपिन मिश्र।

  • एसपी ने कोतवाल को पहले लाइन हाजिर किया फिर निलंबित कर दिया

उत्तर प्रदेश के बहराइच में एसपी विपिन मिश्रा और नानपारा कोतवाल डीके श्रीवास्तव के बीच बातचीत का एक ऑडियो सामने आया है। कोतवाल ने एसपी को फोन कर कहा कि सर आप हमें निलंबित कर दीजिए, मगर मां की गाली मत दीजिए। इस बात को लेकर दोनों के बीच नोकझोंक हुई। इसके बाद कोतवाल को लाइन हाजिर कर दिया गया।

आहत कोतवाल ने डीआईजी डॉक्टर राकेश सिंह से शिकायत की। कोतवाल ने एसपी को भ्रष्टाचारी बताते हुए अपनी पीड़ा बताई। कहा कि मेरी मां मर चुकी है। डीआईजी से शिकायत करने के बाद एसपी ने कोतवाल को निलंबित कर दिया। कोतवाल ने डीजीपी, मुख्यमंत्री के सामने पेश होने के अलावा हाईकोर्ट की शरण लेने की बात कही है।

उधर, एसपी विपिन मिश्रा ने अपने ऊपर लगे आरोपों को बेबुनियाद बताया है। उन्होंने कहा कि एक घटना की जानकारी मेरे द्वारा बताने के बावजूद कोतवाल मौके पर नही पहुंचे। अगर समय से पहुंच जाते तो गोलीकांड न होता। अनुशासनहीनता के कारण लाइन हाजिर किया गया है। आगे भी विभागीय कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि एसपी विपिन मिश्रा की अंबेडकरनगर जिले में भी पूर्व में तैनाती रही है। वहां भी गाली-गलौच को लेकर चर्चा में आए थे।

एसपी विपिन मिश्रा व कोतवाल डीके श्रीवास्तव।

एसपी विपिन मिश्रा व कोतवाल डीके श्रीवास्तव।

कोतवाल और एसपी के बीच क्या बातें हुई?

कोतवाल डीके श्रीवास्तव ने एसपी को फोन मिलाकर पूछा कि सर आपने मुझे मां की गाली दी है। सीओ के फोन पर। मैं बगल में ही खड़ा था और सुना है। आप मुझे निलंबित कर दीजिए, लाइन हाजिर कर दीजिए। लेकिन मां की गाली न दीजिए। ऑडियो में एसपी कहते हैं कि तुम इसे तमाशा बनाओगे। मैं कार्रवाई करूंगा।

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, नानपारा कोतवाली क्षेत्र के हुलासपुरवा पतरहिया निवासी माधवराम और कृष्ण कुमार वर्मा रिश्तेदार हैं। लेकिन दोनों के बीच पुरानी रंजिश चल रही है। सोमवार की शाम दोनों के बीच कहासुनी के बाद मारपीट हुई। जिसमें कृष्ण कुमार ने कट्टे से फायर कर दिया। इसमें माधवराम के पैर में गोली लगने से वह घायल हो गया। सूचना पर सीओ नानपारा जंग बहादुर यादव व कोतवाल डीके श्रीवास्तव मौके पर पहुंचे।

आरोप है कि घटना के समय एसपी ने सीओ के फोन पर घटना की जानकारी ली और गाली देते हुए कहा कि कोतवाल से बोल दो कि सुबह तक आरोपी गिरफ्तार हो जाना चाहिए। सीओ के पास ही खड़े होने के कारण यह बात कोतवाल ने अपनी कानों से सुनी और अपने फोन से एसपी को फोन करके कहा कि सर निलंबित कर दीजिए, लेकिन मां की गाली न दीजिए। एसपी ने सोमवार देर रात कोतवाल डीके श्रीवास्तव को लाइन हाजिर कर दिया।

शिकायत करने के बाद एसपी ने कोतवाल को किया निलंबित

एसपी व कोतवाल के बीच हुए गाली गलौच का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। कोतवाल ने जब इसकी शिकायत डीआईजी से की तो एसपी ने कोतवाल को निलंबित कर दिया। डीआईजी डॉ. राकेश सिंह ने बताया कि कोतवाल ने एसपी पर गाली देने का आरोप लगाया है। जांच कराई जाएगी।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *