• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • The Main Accused Of Badaun Gangrape Arrested From Mewali Village Of Uttar Pradesh, Villagers Captured And Give Him To Police

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लखनऊएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

मुख्य आरोपी पुजारी को ले जाती पुलिस, बाइक के बीचोंबीच बैठा दाड़ी वाला आरोपी पुजारी।

  • पुलिस ने आरोपी पुजारी पर 50 हजार रुपए का इनाम रखा था
  • मोबाइल ऑन करने पर पुलिस को मिल गई थी गांव में होने की सूचना

उत्तर प्रदेश के बदायूं के चर्चित गैंगरेप और हत्याकांड मामले में फरार चल रहे पुजारी सत्यनारायण को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने गुरुवार रात उसे मेवली गांव में एक भक्त के घर से बरामद किया है। इससे पहले उघैती थाना पुलिस ने मुख्य आरोपी सत्यनारायण पर 25 हजार का इनाम रखा था, जिसे बाद में बढ़ाकर 50 हजार कर दिया गया था।

पुजारी को ग्रामीणों ने पकड़कर पुलिस के हवाले किया है। इससे पहले पुजारी ने एक बार मोबाइल ऑन किया था, जिससे बुधवार को ही उसके आसपास होने की सूचना मिल गई थी। सूचना मिलने के बाद कई थानों की फोर्स के साथ स्वाट टीम भी गांव के आसपास लग गई थी। दबाव बढ़ने के बाद ग्रामीणों ने पुजारी की सूचना दी और बाद में उसे पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया।

पुजारी से पूछताछ करने थाने पहुंचे आईजी

गिरफ्तारी की जानकारी मिलने के बाद बरेली के आईजी राजेश पांडेय भी थाने पहुंचे। फिलहाल पुजारी से पूछताछ की जा रही है। बता दें कि 3 जनवरी की रात हुई घटना के बाद मंगलवार को 3 लोगों के खिलाफ महिला के साथ गैंगरेप और हत्या का मामला दर्ज किया गया था। दो आरोपी जसपाल और वेदराम को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले में संज्ञान लेते हुए एडीजी अविनाश चंद को भेजा था।

तीन आरोपियों ने पार कर दी हैवानियत की सारी हदें

मामला बदायूं के उघैती के एक गांव का है। यहां 50 वर्षीय एक महिला रविवार शाम 6 बजे पूजा के लिए मंदिर गई थी। दो-तीन घंटे बीत जाने के बाद भी जब वह घर नहीं लौटी तो घर वाले थाने गए, लेकिन पुलिस ने रात 11 बजे तक उनकी कोई बात नहीं सुनी। आरोपी दरवाजे की कुंडी खटखटा कर महिला का शव फेंक गए और फरार हो गए।

आरोपियों ने जाते समय बताया कि महिला कुएं में गिर गई थी, जबकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पीड़ित के प्राइवेट पार्ट में लोहे की रॉड और कपड़ा डालने जैसी चीजें उजागर हुई थीं। पुलिस तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *