Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बांदा5 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

यह फोटो बांदा की है। बेटी की मौत पर रोते बिलखते परिजन।

  • बबेरू कस्बे का मामला, पुलिस ने परिवार वालों से की पूछताछ

उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में 12वीं की एक छात्रा ने रविवार रात फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। परिजनों का आरोप है कि फीस न जमा करने से कॉलेज प्रबंधन ने अर्द्धवार्षिक परीक्षा से वंचित कर दिया था। इसके चलते वह परेशान चल रही थी। पुलिस पड़ताल में जुटी है।

सबसे पहले भाई ने बहन को मृत देखा

यह पूरा मामला बबेरु कस्बे के अतर्रा रोड नेता नगर मोहल्ले का है। यहां रहने वाले अनंत कुमार की बेटी संजना देवी (16 साल) कस्बे के विद्या मंदिर इंटर कॉलेज में इंटरमीडिएट की छात्रा थी। संजना ने रविवार रात अपने घर में पंखे से साड़ी के फंदे के सहारे फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया। भाई देवनारायण के अनुसार, वह रात में माचिस लेने के लिए बहन के कमरे में गया तो उसका शव फंदे से लटक रहा था। सोमवार सुबह सूचना पर पुलिस पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

पिता ने कहा- छमाही परीक्षा के दो पेपर दिए थे बेटी ने

मृतक छात्रा के पिता अनंत कुमार ने बताया कि मेरी लड़की इंटर में विद्या मंदिर इंटर कॉलेज पर पढ़ रही थी। जिसमें कॉलेज के स्टाफ के द्वारा फीस जमा करने का दबाव बना रहे थे। छमाही पेपर भी चल रहे थे, जिसमें दो पेपर मेरी लड़की ने दिया भी है। उसके बाद शिक्षकों ने उसे परीक्षाओं वंचित कर दिया। इस बात से बेटी परेशान थी। मैंने उसे समझाया था कि मजदूरी करके फीस जमा कर देंगे। लेकिन तनाव में बेटी का मानसिक संतुलन बिगड़ गया था। उसने अवसाद में आकर खुदकुशी की है।

अन्य पहलुओं पर चल रही जांच

बबेरु पुलिस ने कहा कि परिजन फीस जमा नहीं करने की वजह से फांसी लगाने की बात कह रहे हैं। लेकिन हर बिंदु को ध्यान में रखकर जांच की जा रही है। शव का पोस्टमार्टम कराया गया है। परिजनों से पूछताछ की गई है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *