Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुल्तानपुर23 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
यूपी के सुल्तानपुर में पंचायत चुनाव की रंजिश के चलते दो पक्षों के बीच हुई मारपीट में एक व्यक्ति की हत्या कर दी गई। - Dainik Bhaskar

यूपी के सुल्तानपुर में पंचायत चुनाव की रंजिश के चलते दो पक्षों के बीच हुई मारपीट में एक व्यक्ति की हत्या कर दी गई।

  • इस मामले में पुलिस ने पीड़ित पक्ष की तहरीर पर संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया था

उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर में पंचायत चुनाव के शंखनाद से पहले चुनावी आग भड़क उठी है। यूपी के सुलतानपुर से इसकी बानगी सामने आई है। जहां प्रधानी की दावेदारी को लेकर पूर्व और निवर्तमान प्रधान पति का कुनबा आमने-सामने हुआ। पूर्व प्रधान के चाचा की जहां मौत हो गई, वहीं कुवैत में नौकरी कर रहे पूर्व प्रधान के भतीजों को निवर्तमान प्रधानपति के रिश्तेदारों ने घर में घुसकर पीटा।

जानकारी के अनुसार, दरअसल ये पूरी घटना कुड़वार थाना क्षेत्र के मनियारपुर गांव की है। गांव निवासी आबाद अली पूर्व प्रधान हैं, उन्होंने पुलिस में घटना को लेकर तहरीर दी जिस पर एफआईआर दर्ज हुई है। तहरीर के अनुसार आबाद अपने भाई के घर पर बैठे थे। आरोप है कि गांव के मीसम और निजाम हाथ में तमंचा लेकर आए तब तक इनके अन्य साथी हातिम, जाने आलम और शाने आलम आदि हाथ में लाठियां लेकर और ललकारते हुए गालियां देकर कहने लगे कि इनकी इतनी हिम्मत हो गई कि हमारे खिलाफ प्रधानी का चुनाव लड़ने जा रहे।

कुवैत में रहते हैं पूर्व प्रधान के दो भतीजे

मिली जानकारी के अनुसार पूर्व प्रधान आबाद अली के दो भतीजे कुवैत में रहकर नौकरी करते हैं। वहीं प्रधान मीसम के परिवार के कई सदस्य भी कुवैत में रहते हैं। आरोप है कि दो दिन पूर्व कुवैत में रहने वाले मीसम के परिवार के सदस्य आबाद अली के भतीजों के कमरे पर पहुंचे थे और दोनों को जमकर पीटा था।

फोन पर सूचना आने के बाद दोनों परिवार मे तनी तना बढ़ गई थी। लोग तो यहां तक बताते हैं कि सोमवार को गांव में स्थित जीशान की कोटे की दुकान पर राशन को लेकर मीसम ने विवाद शुरू कर दिया था। कोटेदार विकलांग है ऐसे में मदद में आए आबाद के भतीजे फज़ल ने कोटेदार के समर्थन में प्रधान पति मीसम का विरोध किया जिससे मामला तूल पकड़ गया और नौबत मारपीट तक पहुंच गई।

संगीन धाराओं में केस दर्ज-चार हिरासत में

फिलहाल इस मामले में पुलिस ने पीड़ित पक्ष की तहरीर पर संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया था। आज जब बहादुर अली की इलाज के दौरान मौत हो गई तो फौरन खाकी हरकत में आ गई। कई थानों की फोर्स मनियारपुर गांव पहुंच गई जिससे शांति व्यवस्था कायम रही। वहीं सीओ बल्दीराय ने बताया कि मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर अन्य विधिक कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने बताया कि चार आरोपियों को हिरासत में लेकर पुलिस जांच पड़ताल कर रही है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *