• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Mathura Nand Baba Temple Latest News And Updates: Muslim Pilgrims Offer Namaj In Nandbaba Temple In Mathura Uttar Pradesh

मथुराएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश में मथुरा के नंदगांव में स्थित विश्व प्रसिद्ध नंद बाबा मंदिर में चार दिन पूर्व दो गैर हिंदुओं द्वारा नमाज पढ़ने को लेकर विवाद शुरू हो गया है।

  • 29 अक्टूबर को दो युवकों ने मंदिर में नमाज पढ़ी थी
  • रविवार को सोशल मीडिया पर फोटो वायरल होने पर विवाद बढ़ा

उत्तर प्रदेश में मथुरा के नंदगांव में स्थित विश्व प्रसिद्ध नंद बाबा मंदिर में चार दिन पूर्व दो मुस्लिमों द्वारा नमाज पढ़ने को लेकर विवाद शुरू हो गया है। रविवार को नंदबाबा मंदिर में नमाज पढ़ने की फोटो सोशल मीडिया पर सामने आने के बाद हिंदू संगठनों ने नाराजगी जताई है, वहीं मंदिर के सेवायत ने कानूनी कार्रवाई करने की बात कही है।

नंदगांव के नंदबाबा मंदिर में नमाज पढ़ते फैजल खान व मोहम्मद चांद।

नंदगांव के नंदबाबा मंदिर में नमाज पढ़ते फैजल खान व मोहम्मद चांद।

स्वयं को हिंदू-मुस्लिम संस्कृति में विश्वास रखने वाला बताया

नंदगांव के विश्व प्रसिद्ध से नंद बाबा मंदिर में 29 अक्टूबर की दोपहर हरी टोपी लगा कर दो युवक अपने तीन सहयोगियों के साथ पहुंचे। मंदिर में पहुंचने के बाद एक युवक ने अपना नाम फैजल खान बताया और अपने साथ आए साथियों का परिचय मोहम्मद चांद, नीलेश गुप्ता और आलोक के रूप में कराया। फैजल ने मंदिर के सेवायत पुजारी कान्हा गोस्वामी से दर्शन करने की बात कही और स्वयं को हिंदू मुस्लिम संस्कृति में विश्वास रखने वाला बताया और अपने मोबाइल से तमाम हिंदू संत-महंतों के साथ अपनी फोटो दिखाए।

सेवायत ने उनकी बात का मान रखते हुए दर्शन करने की अनुमति दी और वह दर्शन करके मंदिर के गेट नंबर 2 की ओर चले गए। कोविड-19 के चलते मंदिर में आजकल श्रद्धालुओं की भीड़ नहीं है। इसका फायदा उठाकर फैजल खान ने मंदिर परिसर में चांद मोहम्मद के साथ नमाज पढ़ी और उसके साथी नीलेश गुप्ता और आलोक ने उनके फोटो खींचे।

हिंदू संगठनों में फैला आक्रोश, कानूनी कार्रवाई करने की बात कही

रविवार को फोटो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिए गए। वायरल फोटो से मंदिर के सेवायतों को जब इनकी इस हरकत के बारे में पता चला तो उन सब में भारी आक्रोश है। मन्दिर के सेवायत कान्हा गोस्वामी का कहना है कि वह उनके खिलाफ आवश्यक कानूनी कार्रवाई करेंगे। वहीं, सोशल मीडिया पर जब इस फोटो को हिंदूवादी संगठनों ने देखा तो सभी मे भारी रोष है। देखना यह है कि इस मामले में क्या कार्रवाई अमल में लाई जाती है?



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *