सोनभद्रएक मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मृतका प्रिया सोनी।- फाइल फोटो

  • 21 सितंबर को चोपन थाना क्षेत्र में मिली थी युवती की सिर कटी लाश
  • इससे चार दिन पहले ही हत्यारोपी पति ने अपने एक साथी के साथ मिलकर वारदात को दिया था अंजाम

साेनभद्र जिले में चोपन थाना क्षेत्र के प्रीत नगर में 21 सितंबर की रात झाड़ियों में एक युवती की सिर कटी लाश मिली थी। गुरुवार को पुलिस ने इस प्रकरण का खुलासा किया है। पुलिस के अनुसार, धर्म परिवर्तन करने से इंकार करने पर उसके पति ने हत्या कर सिर व धड़ काटकर अलग कर दिया था। 100 मीटर की दूरी सिर बरामद हुआ था। 17 सितंबर को ही हत्यारोपी पति ने अपने एक मित्र के साथ मिलकर पत्नी की हत्या कर दी थी। इसके बाद प्रीत नगर के जंगल में शव को फेंक दिया था। पुलिस ने दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया है।

जुलाई माह में घर से भागकर की थी कोर्ट मैरिज

एसपी आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि मृतका की शिनाख्त पुलिस के लिए चुनौती थी। लेकिन लोगों के सहयोग से उसकी शिनाख्त प्रिया सोनी (22 साल) पुत्री लक्ष्मी सोनी के रुप में हुई। वह चोपन की रहने वाली थी। सात जुलाई को उसने पड़ोस में रहने वाले एजाज अहमद नाम के युवक के साथ कोर्ट मैरिज किया था। इस शादी में लड़की के परिवार वाले शामिल नहीं हुए थे। एजाज उसे अपने घर में न रखकर ओबरा स्थित एक लॉज में रख रहा था।

आरोपी एजाज (बाएं) और शोएब।

आरोपी एजाज (बाएं) और शोएब।

एसपी ने बताया कि एजाज लगातार प्रिया पर धर्म परिवर्तन के लिए दबाव बना रहा था, ताकि वह उसे अपने घर ले जा सके। बिना धर्म परिवर्तन के एजाज के परिवार वाले प्रिया को स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं थे। लेकिन प्रिया धर्म परिवर्तन के लिए तैयार नहीं थी, इसी वजह से उसने बीते 17 सितंबर को युवती को ओबरा से चोपन बुलाकर अपने मित्र शोएब अख्तर के साथ मिलकर गला काटकर हत्या कर दी और शव को चोपन के प्रीतनगर के जंगल मे छुपा दिया था।

पुलिस ने आरोपियों को भेजा जेल।

पुलिस ने आरोपियों को भेजा जेल।

आरोपियों पर एनएसए की कार्रवाई होगी

पुलिस ने आरोपी एजाज अहमद और उसके दोस्त शोएब अख्तर के पास से प्रिया का मोबाइल फोन, घटना में प्रयुक्त लोहे की रॉड, चाकू, फावड़ा बरामद कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से एक कार भी बरामद की है। पुलिस का कहना है कि प्रकरण गंभीर होने के चलते इस मामले में आरोपियों के खिलाफ एनएसए की कार्रवाई भी की जाएगी। बता दें कि इस घटना के विरोध में हिंदूवादी संगठनों ने प्रदर्शन कर हत्यारोपियों की गिरफ्तारी का दबाव भी बनाया था।

0



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *