टॉप न्यूज़


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शाहजहांपुर12 दिन पहले

यह फोटो शाहजहांपुर की है। इस युवक का नाम हर्षवर्धन है। इसने ट्रेन के आगे कूदकर जान देने की कोशिश की। लेकिन उसका शरीर दो हिस्सों में कट गया। हर्षवर्धन करीब 12 घंटे जीवित रहा।

  • शाहजहांपुर के रौजा थाना क्षेत्र का मामला, मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों ने बचाने की कोशिश की, मगर नाकाम रहे
  • परिवार ने शरीर के एक हिस्से का कर दिया अंतिम संस्कार, दूसरे हिस्से को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया

शाहजहांपुर में एक युवक आत्महत्या करने के लिए ट्रेन के आगे कूद गया। ट्रेन से कटने के बाद शरीर दो हिस्सों में बंट गया। हादसे के बाद पुलिस ने युवक के पैर के निचले हिस्से को परिजनों को सौंप दिया जिसका अंतिम संस्कार सोमवार को कर दिया गया। वहीं घटना के 12 घंटे बाद तक चले इलाज के बाद युवक की मौत हो गई। उसके शरीर के ऊपरी हिस्से का मंगलवार को अंतिम संस्कार कर दिया गया। पूरे मामले का एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें वह कह रहा है कि हादसे में उसके किसी अपने की कोई गलती नहीं है।

युवक को देखकर रोते बिलखते परिजन।

युवक को देखकर रोते बिलखते परिजन।

यह है पूरा मामला

रौजा थाना क्षेत्र के हथोड़ा बुजुर्ग गांव निवासी हर्षवर्धन (21 साल) एक स्कूल में टैक्सी चलाता था। वह सोमवार को अपनी मां से कुछ पैसे लेकर घर से निकला। इसके बाद करीब 11 बजे वह हथोड़ा स्टेडियम के पीछे रेलवे लाइन पर पहुंचा। जहां वह दिल्ली से लखनऊ जा रही एक ट्रेन के आगे कूद गया। इसी बीच लखनऊ की ओर से आई मालगाड़ी के ड्राइवर ने दोनों लाइनों के बीच में युवक के शरीर का निचला हिस्सा पड़ा देखा तो कंट्रोल रुम को सूचना दी। इसी बीच पुलिस ने मौके पर पहुंचकर देखा तो हर्ष पास ही नहर के पानी में पड़ा था और कह रहा था कि हमें बचा लो साहब हमने आत्महत्या की है। इसमें किसी का कोई दोष नहीं है।

घायल युवक को नहर से बाहर निकाला गया।

घायल युवक को नहर से बाहर निकाला गया।

हर्ष के नाभि के नीचे का हिस्सा दो टुकड़ों में बंट गया था। उसके शरीर का एक हिस्सा रेलवे लाइन से घिसटकर नहर के पानी में चला गया था। जिससे उसके खून का बहाव रुक गया था। घटना के बाद पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से उसे मेडिकल कॉलेज भिजवाया। जहां डाक्टरों ने इलाज शुरू किया। लगभग देर रात 12 बजे के बाद उसने दम तोड़ दिया। हालांकि उसके दोनों पैरों को पुलिस ने परिवार सौंप दिया था। जहां उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया था। लेकिन अब युवक के दम तोड़ने के बाद मंगलवार को पोस्टमार्टम के बाद दूसरी बार अंतिम संस्कार किया गया।

रेलवे लाइन पर पड़ा युवक के शरीर का निचला हिस्सा।

रेलवे लाइन पर पड़ा युवक के शरीर का निचला हिस्सा।

रात करीब 12 बजे युवक की मौत

मेडिकल कॉलेज की PRO पूजा त्रिपाठी पांडेय ने बताया कि सोमवार की सुबह करीब 11 बजे एक युवक का एक्सीडेंट हुआ था। उसको मेडिकल कॉलेज लाया गया। जहां ज्यादातर डाक्टर उसके इलाज में जुट गए थे, लेकिन युवक के कमर से नीचे का हिस्सा अलग हो चुका था। यही कारण है कि, उसके शरीर से खून का रिसाव कुछ ज्यादा हो गया था। रात करीब 12 बजे इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *