Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लखनऊ / वाराणसी16 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

यूपी के वरिष्ठ आईएएस अधिकारी अजय कुमार सिंह ने शनिवार भोर में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। उनके निधन की सूचना पर सीएम योगी ने भी उन्हें श्रद्धांजलि दी।

  • शनिवार को अजय सिंह की तबियत अचानक बिगड़ गई थी
  • उन्हें बनारस के शुभम अस्पताल में भर्ती कराया गया था

उत्तर प्रदेश शासन में सचिव राष्ट्रीय एकीकरण के पद पर तैनात रहे सीनियर IAS अधिकारी अजय कुमार सिंह ने शनिवार सुबह दम तोड़ दिया। वाराणसी में विधान परिषद चुनाव में पर्यवेक्षक के रूप में काम कर रहे अजय कुमार सिंह की तबीयत शुक्रवार सुबह अचानक बिगड़ गई। उन्हें तत्काल शहर के शुभम अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। इसकी सूचना मिलने के बाद सीएम योगी ने भी उनके निधन पर दुख जताया और टीम-11 के सदस्यों के साथ श्रद्धांजलि दी।

अजय कुमार सिंह का अंतिम संस्कार वाराणसी के मणिकर्णिका घाट पर सायंकाल 4 बजे किया जाएगा। उनके पुत्र के लखनऊ तथा कुछ निकट संबंधियों के दिल्ली से आने की प्रतीक्षा है। अंतिम संस्कार में शासन के दो वरिष्ठ अधिकारी भी जाएंगे। अजय सिंह की मृत्यु पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम 11 की बैठक के दौरान अपने अधिकारियों के साथ श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री ने शोकाकुल परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की।

सर्किट हाउस में हार्ट अटैक के बाद उनको निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पर दोपहर बाद उनकी सेहत में सुधार हो रहा था। इसके बाद आज तड़के उनकी तबीयत फिर बिगड़ गई और उन्होंने दम तोड़ दिया। उनकी पत्नी नीना शर्मा भी 1998 बैच की आईएएस अधिकारी हैं। उनकी ड्यूटी आब्जर्वर के तौर पर आगरा में लगी थी। सुबह से ही उनको दिल्ली ले जाने की कवायद शुरू हो गई थी। हास्पिटल से एयरपोर्ट ले जाने के लिए बीएचयू की एम्बुलेंस भी हास्पिटल पहुंच गई थी।

वरिष्ठ आईएएस अधिकारी अजय कुमार सिंह। फाइल फोटो

वरिष्ठ आईएएस अधिकारी अजय कुमार सिंह। फाइल फोटो

MLC चुनाव में बनाए गए थे ऑब्जर्वर

विधान परिषद चुनाव में लखनऊ से जनपदीय पर्यवेक्षक के रूप में वाराणसी में सेवा दे रहे अजय कुमार सिंह को शुक्रवार को हृदयाघात होने पर शुभम हॉस्पिटल में तत्काल भर्ती कराया गया। सर्किट हाउस में अचानक तबीयत खराब होने पर उनको शुभम अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां शुभम हॉस्पिटल के साथ ही साथ सर सुंदर लाल चिकित्सालय बीएचयू के कार्डियोलोजिस्ट एवं न्यूरोलॉजिस्ट के परामर्श, देखरेख एवं सतत निगरानी में उनका इलाज चल रहा था।

दोपहर तक उनके स्वास्थ्य की स्थिति गंभीर बनी हुई थी। इसके बाद सुधार होने लगा। सॢकट हाउस में सुबह अचानक तबीयत खराब हुई। उन्हेंं कार्डियक अरेस्ट हुआ। सीएमओ डा. वीबी सिंह के अनुसार उनको न्यूरो, गुर्दा व रीनल प्राब्लम भी थी। उनको कल सुबह पास नहीं हो रहा था, दोपहर बाद उसमें सुधार हो गया था।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *