Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जालौन11 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
बरामद माल का आकलन करते खाद्य विभाग के कर्मचारी। - Dainik Bhaskar

बरामद माल का आकलन करते खाद्य विभाग के कर्मचारी।

  • अपर जिलाधिकारी की अगुवाई में टीम ने मारा छापा
  • वाणिज्य कर विभाग को भी जांच में शामिल किया गया

उत्तर प्रदेश के जालौन में अवैध रूप से गुटका बनाने वालों के खिलाफ प्रशासन और पुलिस की टीम ने बड़ी कार्रवाई की। जिला प्रशासन व खाद्य विभाग की टीम ने उरई के अलग-अलग इलाकों में स्थित गुटका फैक्ट्री पर छापा मारा और 4 गोदामों में तैयार हो रहा गुटका, सुपारी व अन्य सामग्री समेत 60 लाख रुपए का माल बरामद किया है। इस दौरान तीन गोदामों को सीज किया गया है। नमूना भरकर जांच के लिए भेज दिया गया। साथ ही वाणिज्य कर विभाग को भी जांच में शामिल किया गया है।

मौके पर जांच करते खाद्य विभाग के कर्मी।

मौके पर जांच करते खाद्य विभाग के कर्मी।

दो ब्रांड के गुटका व कच्चा माल बरामद
अपर जिलाधिकारी प्रमिल कुमार सिंह के नेतृत्व में SDM उरई सतेंद्र कुमार और खाद्य विभाग की टीम ने गुरुवार को सूचना पर जालौन के उरई शहर के बस स्टैंड और विधि महाविद्यालय सहित 4 अलग-अलग स्थानों पर छापा मारा। इस दौरान टीम ने मौके पर भारी मात्रा में गणेश व महादेव ब्रांड के गुटके बरामद किए। इस दौरान तैयार किए जा रहे पान मसाला, सुगंधित सुपारी, पान मसाले में लगने वाला पाउडर आदि के नमूने लिए। साथ ही मौके से कई क्विंटल सुपारी, तैयार किया गया गणेश गुटका, महादेव पान मसाला बरामद किया है।

जिला प्रशासन ने तत्काल माल को सील कर दिया साथ ही सभी का नमूना भरकर जांच के लिए भेज दिया। जिला प्रशासन ने छापा मारकर जो माल बरामद किया है, उसकी कीमत 60 लाख रुपए बताई जा रही है। हालांकि इस दौरान अवैध धंधा करने वाले फरार हो गए।

फैक्ट्री को सीज कर दिया गया है।

फैक्ट्री को सीज कर दिया गया है।

मजदूरों को हिरासत में लेकर चल रही पूछताछ

उपजिलाधिकारी सत्येंद्र कुमार ने बताया कि वाणिज्य विभाग को इस संबंध में सूचना दे दी गई है। साथ ही जो सेंपलिंग कराई गई है, उसकी रिपोर्ट आने के बाद विभागीय कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि फैक्ट्री के अंदर काम करने वाले मजदूरों को हिरासत में लिया गया है। जिनसे पूछताछ की जा रही है कि यह गुटका किसका था? उन्होंने बताया कि समय-समय पर यह अभियान चलाया जा रहा है और अवैध काम करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *