टॉप न्यूज़


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लखनऊ3 घंटे पहले

उत्तर प्रदेश के केजीएमयू में वेक्सीनेशन का ड्राई रन शुरू हो गया है।

  • डॉक्टर निशांत वर्मा का कहना है कि वैक्सीनेशन ट्रायल सफलतापूर्वक चलाया गया
  • डीएम लखनऊ अभिषेक प्रकाश भी ड्राई रन सेंटरों का निरीक्षण किया

कोविड-19 वैक्सिनेशन के मद्देनजर आज जनपद लखनऊ में ड्राई रन किया गया। जिसके मद्देनजर जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश स्वयं ड्राई रन के भौतिक सत्यापन के लिए फील्ड में निकले। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश द्वारा केजीएमयू, राममनोहर लोहिया इंस्टिट्यूट व सहारा हॉस्पिटल का निरीक्षण किया गया।

ज़िलाधिकारी ने बताया कि जनपद लखनऊ में 6 अस्पतालों को आज ड्राई रन के लिए चिन्हित किया गया है। जहाँ पर ड्राई रन किया जा रहा है। जहाँ पर 25-25 लोगों की संख्या को निर्धारित किया गया है। इसमें एसजीपीजीआई, केजीएमयू, राममनोहर लोहिया, सहारा हॉस्पिटल व दो ग्रामीण क्षेत्र के CHC माल और मलीहाबाद को शामिल किया गया है।

पांच चरणों में पूरा होगा ड्राइ रन अभियान

उन्होंने बताया कि यह ड्राई रन सामान्यता 5 चरणों मे होगा। जिसमें पहले आइडेंटिफिकेशन होता है फिर जिनका वैक्सिनेशन होना है उनकी आईडी लॉग इन की जाती है और उसके बाद उनको वैक्सिनेट किया जाता है। वैक्सिनेशन होने के पश्चात एक वैक्सिनेशन कार्ड दिया जाता है। जिसमे जिस दिन वैक्सिनेशन हुआ उस दिन का और अगले 28वें दिन द्वितीय डोज़ की तारीख अंकित होती है। वैक्सिनेशन के पश्चात प्रत्येक व्यक्ति को 30 मिनट तक आब्जर्वेशन में रखा जाएगा।

डीएम अभिषेक प्रकाश ने बताया कि इसी तरह कोल्ड चेन से लेकर स्टोरेज व वैक्सीन का मूवमेंट हर एक सेंटर तक निर्धारित करने के लिए आज ड्राई रन किया गया। जिसमें पुलिस प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के साथ साथ चिन्हित 6 हास्पिटलों की टीमों द्वारा ड्राई रन किया गया।

ड्राई रन का दूसरा चरण पांच जनवरी को

कोरोना वैक्सीन आने से पहले राजधानी में पांच जनवरी मंगलवार को दूसरे चरण का ड्राई रन होना है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने दो निजी अस्पताल सहित छह अस्पताल की सूची तैयार की है। जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा पहले दौर में हुई कमियों को दूर करने के लिए रविवार को एक बैठक भी आयोजित की गई है। इस बैठक में स्वास्थ्य विभाग, जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहेंगे। वहीं

जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने बताया कि आज पहला ड्राई रन किया गया है। जल्द ही दूसरा ड्राई रन किया जाएगा। जिसमे स्वास्थ्य विभाग की टीम, प्रशासन की टीम व चिन्हित कुल 59 सेंटरों की टीमें शामिल होंगी। साथ ही साथ सभी टीमो की वर्कशॉप भी कराई जाएगी, ताकि किसी भी प्रकार की अव्यवस्था न होने पाए।

विशेष वैक्सीन वाहनों में 4 से 8 डिग्री सेल्सियस तापमान के बीच वैक्सीन रखा गया है।आईएलआर से वैक्सीन को विशेष बॉक्स में सेंटर तक वैक्सीन बनाया है। एक-एक हॉस्पिटल में 25-25 प्रशिक्षित कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई है। केजीएमयू वैक्सीनेशन के नोडल अधिकारी निशांत वर्मा ने बताया, “यहां 50 लोगों को वैक्सीन देने की तैयारी की जा रही है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *