• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • For The By election, Congress Fielded Two Candidates For Bangarmau Swar Seat, For The Remaining Seats Will Also Be Announced Soon.

लखनऊ3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

यूपी में आठ विधानसभा सीटों के लिए होने वाले उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने दो प्रत्याशियों के नामों का ऐलान कर दिया है। बाकी 6 सीटों के लिए जल्द ही नामों की घोषणा की जाएगी।

  • उत्तर प्रदेश में आठ विधानसभा सीटों पर होने हैं उपचुनाव
  • मतदान की तारीखों पर 29 को चुनाव आयोग ले सकता है फैसला

उत्तर प्रदेश विधानसभा की खाली हुई आठ सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर कांग्रेस ने अपने दो उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। प्रदेश की रामपुर के स्वार सीट से हैदर अली खान और बांगरमऊ सीट से आरती बाजपेई को मैदान में उतारा गया है। कांग्रेस जल्द ही बाकी की 6 सीटों पर भी अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर सकती है।

कुलदीप सिंह सेंगर व अब्दुला आज़म की हुई थी सदस्यता रद्द
रामपुर की स्वार सीट के सपा के दिग्गज नेता आजम खान के बेटे अब्दुला आजम विधायक 2017 में चुने गए थे। दिसंबर 2018 में हाईकोर्ट ने फर्जी जन्म प्रमाण पत्र के मामले में उनकी सदस्यता रद्द कर दी गई थी। जिसके चलते स्वार सीट खाली हुई थी। वहीं उन्नाव की बांगरमऊ सीट से विधायक रहे कुलदीप सिंह सेंगर को बलात्कार के मामले में जेल हुई थी। बाद में उनकी भी सदस्यता रद्द कर दी गई है।

आठ सीटों पर होना है उपचुनाव, 6 पर भाजपा का रहा है कब्जा

2017 विधानसभा चुनाव की बात करे तो 8 में से 6 पर भाजपा का कब्जा रहा है। जिन 8 सीटों पर चुनाव होने हैं उसमें से 5 विधानसभा सीटों पर 2017 में निर्वाचित विधायक कमल रानी वरुण, पारसनाथ यादव, वीरेंद्र सिरोही, जन्मेजय सिंह, चेतन चौहान का निधन हो चुका है। टूण्डला विधानसभा सीट से एसपी सिंह बघेल के सांसद बनने के बाद सीट खाली हुई है। अब यहां भी उपचुनाव होना है। इन आठ सीटों पर भाजपा ने 2017 के चुनाव में 6 सीटें जीती थीं, जबकि 2 सीटें सपा के पास थी। लेकिन, 2012 में इनमें से 4 सीट सपा के पास, 2 बसपा के पास और एक-एक सीट पर कांग्रेस और भाजपा का कब्जा था।

29 सितम्बर को होगा उपचुनाव पर फैसला

देश में फैली कोविड महामारी के बीच केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने बिहार के विधानसभा चुनाव के लिए तो तिथियों की घोषणा कर दी है लेकिन यूपी की आठ सीटों पर होने वाले उप चुनाव की तारीख के बारे में 29 सितम्बर को निर्वाचन आयोग की होने वाली बैठक में मुहर लगेगी। 8 सीटों में से 5 सीट पर 2017 में निर्वाचित विधायकों के निधन की वजह से सीटें खाली हुईं थी।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *