Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आगरा20 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

डिलीवरी के दौरान महिला ने बच्चे को जन्म दिया लेकिन अधिक खून बहने से महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई।

  • महिला की मौत से गुस्साए परिजनों ने स्वास्थ विभाग के चिकित्सा अधिकारियों से कार्रवाई की मांग की है

उत्तर प्रदेश में आगरा जिले के ब्लॉक पिनाहट क्षेत्र के अंतर्गत गांव बसई अरेला स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर डिलीवरी के दौरान महिला ने बच्चे को जन्म दिया लेकिन अधिक खून बहने से महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई। परिजनों ने हंगामा करते हुए अस्पताल में तैनात नर्स पर लापरवाही बरतने एवं सुविधा शुल्क मांगने का आरोप लगाया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने महिला के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार थाना बसई इलाज क्षेत्र के अंतर्गत गांव सूखा ताल निवासी राजकुमार का आरोप है कि उसकी पत्नी 20 साल की जूली को शुक्रवार सुबह प्रसव पीड़ा हुई करीब 5 बजे परिजनों ने डिलीवरी के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बसई अरेला में भर्ती कराया। यहां कई घंटे बाद दोपहर में करीब 1 बजे जूली ने एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया।

परिजनों ने नर्स पर लगाया लापरवाही का आरोप

आरोप है तैनात नर्स अरुणा उनसे करीब 2 हजार रुपए सुविधा शुल्क मांगने लगी। इस पर परिजनों ने विरोध किया तो नर्स ने प्रसूता को कोई इंजेक्शन या दवा नहीं दी, जिसके बाद जूली की हालत बिगड़ने लगी। पति और परिजनों ने तैनात नर्स से हालत बिगड़ने की बात कही। आगरा अस्पताल में रेफर करने के लिए कहा। मगर इलाज में लापरवाही बरतते हुए नर्स ने महिला को रेफर नहीं किया।

महिला की ज्यादा हालत बिगड़ने पर परिजनों ने जमकर हंगामा किया तब जाकर कई घंटे बाद नर्स ने महिला को आगरा लेडी लॉयल के लिए रेफर किया। परिजनों का यह भी आरोप है एंबुलेंस चालक एवं नर्स द्वारा बातचीत हुई, जिस पर एंबुलेंस भी धीरे चल रही थी। आगरा लेडी लॉयल अस्पताल पहुंचने के कुछ ही मिनटों बाद महिला ने दम तोड़ दिया।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *