• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Hathras Rape Case News Updates: Victim’s Father Demanded CBI Inquiry Says No Trust In UP Police In Hathras Uttar Pradesh

हाथरस19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

हाथरस में दुष्कर्म पीड़ित के गांव के बाहर फोर्स तैनात।

  • 14 सितंबर को युवती के साथ हुई थी हैवानियत, 15 दिन बाद सोमवार सुबह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में ली अंतिम सांस
  • जिले में 31 अक्टूबर तक धारा 144 लागू, एडीजी प्रशांत कुमार बोले- पीड़ित के साथ दुष्कर्म नहीं हुआ, सीमेन नहीं मिला

उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में गैंगरेप का शिकार 19 साल की दलित युवती की मौत हुए 4 दिन बीत चुके हैं। सोमवार तड़के पीड़िता की दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हुई थी। उसके बाद आधी रात उसका शव जबरन जला दिया गया था। तब से गांव में फोर्स तैनात है। किसी को गांव में प्रवेश करने की अनुमति नहीं है। जिले में धारा 144 प्रभावी होने के साथ पीड़ित के पूरे गांव में नाकेबंदी है। यदि किसी को गांव में आना है तो उसे आईडी कार्ड दिखाना पड़ रहा है। फोर्स इस तरह का सलूक लोगों के साथ कर रही है जैसे वह कोई आतंकी या अपराधी हो। वहीं, वीडियो वायरल होने के बाद डीएम ने अब परिवार वालों को धमकाना शुरू कर दिया है।

पीड़ित के गांव में पुलिस तैनात।

पीड़ित के गांव में पुलिस तैनात।

एडीजी बोले- नहीं हुआ रेप, परिवार वालों ने कहा- सीबीआई से जांच हो

एडीजी प्रशांत कुमार के एक बयान पर लोगों में आक्रोश है। एडीजी ने कहा कि युवती के साथ दुष्कर्म नहीं हुआ था। उसके प्राइवेट पार्ट में सीमेन नहीं मिला है। वहीं, पीड़ित परिवार ने यूपी पुलिस की कार्रवाई पर संदेह जाहिर किया। पिता ने कहा कि उन्हें न तो मीडिया वालों से मिलने दिया जा रहा है न ही बार निकलने की छूट है। सीबीआई से मामले की जांच कराई जाए।

सीएम व राज्यपाल से मिलेंगे रामदास अठावले

केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्री रामदास अठावले ने हाथरस की घटना की कड़ी आलोचना की है। उन्होंने ऐलान किया है कि वे पीड़ित परिवार से मुलाकात करेंगे। हिम्मत बढ़ाएंगे कि वे अकेले नहीं हैं, पूरा देश उनके साथ है। अठावले तीन अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और राज्यपाल से मुलाकात करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए राज्य सरकारों को प्रभावी व कठोर कदम उठाना चाहिए, ताकि अपराधी किसी अपराध करने से पहले सौ बार सोचें।

राहुल-प्रियंका समेत 200 पर दर्ज किया गया केस

गुरुवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी व महासचिव प्रियंका गांधी दिल्ली से हाथरस में पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे थे। लेकिन ग्रेटर नोएडा में उन्हें रोक लिया गया तो वे पैदल की आगे बढ़ने लगे। लेकिन करीब ढाई किमी पैदल चलने के बाद इकोटेक-1 थाना इलाके से राहुल-प्रियंका को गिरफ्तार कर लिया गया। इस दौरान पुलिसवाले ने राहुल की कॉलर भी पकड़ी। धक्कामुक्की में राहुल जमीन पर गिर गए। पुलिस ने राहुल गांधी, प्रियंका गांधी समेत 200 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर किया है।

धक्का-मुक्की के दौरान गांधी रोड पर गिरे।

धक्का-मुक्की के दौरान गांधी रोड पर गिरे।

क्या है पूरा मामला?

हाथरस जिले के चंदपा इलाके के गांव में 14 सितंबर को 4 लोगों ने 19 साल की युवती से गैंगरेप किया था। आरोपियों ने युवती की रीढ़ की हड्डी तोड़ दी और उसकी जीभ भी काट दी थी। दिल्ली में इलाज के दौरान पीड़ित की मौत हो गई। चारों आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं।





Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *