ipl


  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Balrampur Gang Rape Case Was Met With Family Members Of ADG And ACS Victim, Student Was Returning Home From School

बलरामपुरएक घंटा पहले

बलरामपुर पहुंचकर एसीएस अवनीश अवस्थी और एडीजी प्रशांत कुमार ने दुष्कर्म पीड़िता के परिजनों से मुलाकात की। उन्होंने परिवार को हरसंभव मदद का भरोसा दिया।

  • 29 सितम्बर को हाथरस जैसी घटना बलरामपुर जिले में भी सामने आई थी
  • यहां छात्रा को अगवा कर गैंगरेप किया गया, हालत बिगड़ने के बाद हो गई थी मौत

हाथरस के बाद अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी और एडीजी (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार बलरामपुर पहुंचे। बलरामपुर के गैसड़ी इलाके में छात्रा के साथ 29 सितम्बर को गैंगरेप का मामला सामने आया था। छात्रा की मौत हो चुकी है। दोनों अधिकारियों ने पीड़िता के परिवार से मुलाकात की और उन्हें मदद का भरोसा देते हुए आरोपियों को सख्त सजा दिलाने की बात कही।

गैंगरेप पीड़ित के परिजन से मुलाकात के बाद अपर मुख्य सचिव मीडिया से मुखातिब हुए। उन्होंने कहा- परिवार ने जो भी बिंदु बताए हैं, उन्हें हमें नजदीक से मॉनीटर करेंगे। परिवार की मांग है कि जो भी दोषी हैं, उन्हें छोड़ा न जाए और जो छूट गए हैं, उनको भी खोजकर उनके खिलाफ प्रभावी कार्रवाई की जाए।

कॉलेज में एडमिशन कराकर घर लौट रही थी छात्रा

घटना 29 सितम्बर की है। छात्रा एक निजी कॉलेज में बीकॉम थर्ड ईयर में एडमिशन कराकर दोपहर के समय घर लौट रही थी। कॉलेज के पास से ही आरोपी उसे उठा ले गए थे। छात्रा को एक किराने की दुकान के पिछले हिस्से में बने कमरे में लेजाकर उसके साथ रेप किया गया था। आरोपियों ने उससे मारपीट भी की थी, जिससे उसके लीवर और आंत में गम्भीर चोटें आई थी। घटना के बाद आरोपियों ने उसे एक रिक्शे से उसके घर तक भी पहुंचाया था। पीड़िता की हालत बिगड़ने पर परिजन उसे तुलसीपुर अस्पताल ले जा रहे थे, लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई थी।​​​​​​


पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में मिले दरिंदगी के निशान
छात्रा के शव की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में उसके साथ हुई दरिंदगी के निशान मिले हैं। रिपोर्ट में लीवर-आंत में चोट और ज्यादा खून बहने से छात्रा की मौत की बात सामने आई है। छात्रा के शरीर पर 10 जगह बाहरी चोट मिली हैं। कुछ चोट उसके गाल, कोहनी और कमर के निचले हिस्से पर थी। जानकार बताते हैं कि ऐसी चोट तब आती है, जब कोई ऐसी घटनाओं में पुरजोर तरीके से विरोध करता है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *