Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कानपुर13 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

अरबन ट्री की खासियत यह है कि यह हवा में मौजूद प्रदूषक तत्व और जहरीली गैसों को ऑटोमेटिक तरह से अवशोषित कर लेगा।

उत्तर प्रदेश का कानपुर देश के सबसे प्रदूषित शहरों में से एक है। ऐसे में नगर निगम ने यहां आबोहवा में धुले जहर को कम करने के लिए एक वैज्ञानिक तरीका अपनाया है। यहां ब्रह्मनगर चौराहे पर ‘आर्टीफिशियल अरबन ट्री’ लगाया गया है। यह अशुद्ध हवा को शुद्ध कर लोगों को आक्सीजन प्रदान करेगा। प्रदूषण की रोकथाम के लिए यह प्रयोग कारगर साबित हुआ तो शहर के अन्य चौराहों पर नगर निगम ट्री लगवाएगा। पूरे प्रदेश में ऐसा प्रयोग करने वाला कानपुर पहला शहर बन चुका है, जो जहरीली हवा को शुद्ध करने के लिए अरबन ट्री की मदद ले रहा है। इस आर्टीफिशियल अरबन ट्री को वायु प्लांट नाम दिया गया है।

जहरीली गैसों को अवशोषित करेगा प्लांट
‘आर्टीफिशियल अरबन ट्री प्लांट’ के फाउंडर एंड मैनेजिंग डायरेक्टर अभय कुमार सिंह ने बताया, ”इस आर्टीफिशियल अरबन ट्री की खासियत यह है कि यह हवा में मौजूद प्रदूषक तत्व और जहरीली गैसों को ऑटोमेटिक सोख लेगा। इसके बाद कार्बन समेत कई हानिकारक तत्व को जमा कर ऑक्सीजन छोड़ेगा। प्रयोग अगर सफल रहा तो नगर निगम का यह पहला प्रयोग प्रदेशभर के लिए प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए एक बड़ी नजीर साबित होगा।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *