• Hindi News
  • Sports
  • Controversy In ATP Tennis Ranking; Roger Federer, Nadal, Djokovic Under Fire For Protecting Rankings

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
आंद्रे रुबलेव (बाएं) वर्ल्ड रैंकिंग में 8वें और एलेक्जेंडर ज्वेरेव (दाएं) 7वें नंबर पर हैं। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar

आंद्रे रुबलेव (बाएं) वर्ल्ड रैंकिंग में 8वें और एलेक्जेंडर ज्वेरेव (दाएं) 7वें नंबर पर हैं। (फाइल फोटो)

एसोसिएशन ऑफ टेनिस प्रोफेशनल्स (ATP) की कोविड प्रोटेक्शन रैंकिंग को लेकर विवाद खड़ा हो गया है। नए सिस्टम के मुताबिक रैंकिंग को कोरोना की वजह से फ्रीज कर दिया गया है। इसमें खिलाड़ियों को नहीं खेलने के बावजूद भी रैंक को रिटेन रखने की छूट दी है। जर्मन टेनिस के वाइस प्रेसिडेंट ने इस पर आपत्ती जताई है।

उन्होंने ATP पर रैंकिंग में नोवाक जोकोविच, राफेल नडाल, रोजर फेडरर और एंडी मरे (बिग-4) को तरजीह देने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि सिर्फ इन्हीं के लिए रैंकिंग जारी होती है। एलेक्जेंडर ज्वेरेव और आंद्रे रुबलेव जैसे युवा खिलाड़ियों पर किसी का ध्यान नहीं जाता।

डर्क ने बिग-4 पर अपने मुताबिक मैच खेलने का आरोप लगाया
डर्क होर्डोर्फ ने कहा कि बिग-4 अपने हिसाब से शेड्यूल तैयार करते हैं। इसलिए अपने-अपने रैंक बचाने में कामयाब होते हैं। इससे ज्वेरेव और रुबलेव जैसे खिलाड़ियों पर फर्क पड़ रहा है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि लोगों को इसे समझने में भले ही मुश्किल हो रही हो, पर यह काफी आसान है।

डर्क ने रोजर फेडरर और राफेल नडाल पर तंज कसा
​​​​​​​डर्क ने कहा फेडरर बिना खेले अपनी रैंकिंग चुन सकते हैं। नडाल 3 साल पॉइंट बचाकर रैंकिंग सिस्टम से खुश हैं। ऐसा लगता है कि ये प्लेयर काउंसिल मेंबर्स हैं। जोकोविच वर्ल्ड नंबर-1 हैं और बेस्ट प्लेयर। उन्हें इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि कौन उनसे पीछे है। वे खुश हैं।

डर्क बोले- मरे वाइल्ड कार्ड एंट्री और हारकर खुश हैं
​​​​​​​डर्क ने मरे पर भी तंज कसा। उन्होंने कहा कि मरी कभी जीतते नहीं हैं। उन्हें वाइल्ड कार्ड एंट्री मिलती है। जब तक उन्हें वाइल्ड कार्ड एंट्री मिल रही है और वे जीत नहीं रहे हैं और उन्हें अपनी रैंकिंग सुधारने की जरूरत ही नहीं है। वे भी काफी खुश हैं। तो बाकियों के बारे में कौन सोचेगा।

ज्वेरेव और रुबलेव जैसे युवा खिलाड़ी रैंकिंग से नाराज हैं
​​​​​​​डर्क ने कहा कि ज्वेरेव और रुबलेव जैसे युवा खिलाड़ी इस रैंकिंग से काफी नाराज हैं। मेदवेदेव रैंकिंग में दूसरे नंबर पर हैं, लेकिन किसी को इस बारे में नहीं पता। ज्वेरेव और रुबलेव टूर्नामेंट जीत रहे, पर रैंकिंग में कोई फर्क नहीं पड़ रहा। जर्मनी के ज्वेरेव पिछले काफी समय से वर्ल्ड नंबर-7 और रुबलेव वर्ल्ड नंबर-8 बने हुए हैं।

ATP ने कोरोना की वजह से नया सिस्टम लागू किया
ATP ने इससे पहले कोरोना की वजह से खिलाड़ियों की रैंकिंग को नुकसान न होने के लिए नया सिस्टम लागू किया था। जो खिलाड़ी इस दौरान नहीं खेल पा रहे थे, उन्हें इस नए सिस्टम से काफी फायदा मिला। इस नए सिस्टम के मुताबिक, जोकोविच, नडाल और फेडरर जैसे खिलाड़ी टूर्नामेंट चुन सकते हैं और रैंकिंग भी रिटेन कर सकते हैं।

इसके अलावा टेनिस में बेस्ट ऑफ सिस्टम भी लागू किया गया था। इसके मुताबिक प्लेयर्स को 2019 और 2020 इवेंट्स में से अपने बेस्ट रिजल्ट को बनाए रखने की इजाजत है।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *