Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोलंबो2 घंटे पहले

लंका प्रीमियर लीग 26 नवंबर से बिना दर्शकों के शुरू हुई है। लीग में कुल 23 मैच होने हैं। फाइनल 16 दिसंबर तक खेला जाएगा। -फाइल फोटो

कोरोना के बीच श्रीलंका में जारी लंका प्रीमियर लीग (LPL) में मैच फिक्सिंग का साया छाने लगा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक पूर्व नेशनल प्लेयर ने लीग में खेल रहे खिलाड़ियों से संपर्क किया है। मामले में इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) की एंटी-करप्शन यूनिट (ACU) ने जांच शुरू कर दी है।

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने इन आरोपों को नकार दिया है। वहीं, ICC ने कहा कि जांच के बाद ही मामले में कुछ कहा सकेगा। एंटी-करप्शन यूनिट के अधिकारियों ने कहा कि मामले को लेकर नेशनल बोर्ड और स्पोर्ट्स मिनिस्ट्री से भी बात की जा रही है।

LPL में पांच टीमें
लंका प्रीमियर लीग 26 नवंबर से बिना दर्शकों के शुरू हुई है। LPL में पांच टीमें हैं। इसमें कोलंबो किंग्स, कैंडी टस्कर्स, जाफना स्टैलियंस, दांबुला हॉक्स और गाले ग्लेडिएटर्स शामिल है। लीग में कुल 23 मैच होने हैं। फाइनल 16 दिसंबर तक खेला जाएगा। प्रत्येक दिन डबल हेडर मैच होंगे। वहीं 13 और 14 दिसंबर को सेमीफाइनल होंगे।

इरफान समेत भारत के कई खिलाड़ी LPL खेल रहे
इरफान पठान, मुनाफ पटेल, मनप्रीत गोनी और सुदीप त्यागी समेत कई खिलाड़ी LPL में खेल रहे हैं। भारत के वही खिलाड़ी विदेशी लीग खेल सकते हैं, जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट और IPL से संन्यास ले लिया हो।

हाल ही में नुवान जोएसा फिक्सिंग के दोषी पाए गए
पूर्व श्रीलंकन तेज गेंदबाज नुवान जोएसा पर यूएई में 2017 टी-20 लीग के दौरान भ्रष्टाचार में लिप्त होने के आरोप लगे थे। उन पर मई 2019 में अस्थाई रूप से निलंबित किया गया था। पिछले हफ्ते ही उन्हें इस मामले में दोषी पाया गया। नुवान ने फैसले के खिलाफ अपील करने की बात भी कही है।

जोयसा ने कहा था कि ICC अधिकारियों ने उनसे इंग्लिश में बात की थी, जिसे वे समझ नहीं पाए। साथ ही उन्होंने दावा किया कि अधिकारियों ने उन्हें अपनी मातृभाषा सिंहला में जवाब देने की अनुमति नहीं दी थी।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *