• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Ashwin On Pitch Versus Skill Debate Said Not Disturbed With Perception, Happening For A Decade Now

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अहमदाबादएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

भारतीय ऑफ स्पिनर एक इंग्लिश पत्रकार के पिच को लेकर सवाल पूछने पर भड़क गए। उन्होंने उस पत्रकार को जवाब देते हुए कहा कि किसी और के बहकावे में आकर कुछ भी फालतू न बोलें और खुद से इस पर विचार करें। पत्रकार ने अश्विन से तीसरे टेस्ट के लिए मोटेरा में इस्तेमाल हुई पिच के बारे में बताने को कहा था।

तीसरे टेस्ट में भारत ने 2 दिन के अंदर इंग्लैंड को 10 विकेट से हराया था। इस जीत से टीम इंडिया ने 4 टेस्ट की सीरीज में इंग्लैंड पर 2-1 की बढ़त ले ली है। आखिरी टेस्ट 4 मार्च से मोटेरा स्टेडियम में ही खेला जाएगा।

‘कोई बताए कि सही पिच की परिभाषा क्या है?’
अश्विन ने पत्रकार से कहा कि वे विदेशी प्लेयर और मीडिया की बातों से किसी भी नतीजे तक नहीं पहुंचें। उन्होंने कहा, ‘मुझे कोई बताए कि एक अच्छा पिच क्या है? बॉलर ने अच्छी बॉलिंग की। बैट्समैन को रन बनाने के लिए अच्छी बैटिंग करनी चाहिए थी। वे ऐसा करने में नाकाम रहे। आप कैसे कह सकते हैं कि कौन सा पिच सही है और कौन सा नहीं? इसकी कोई परिभाषा है?

‘दर्शकों को एक अच्छे मैच की उम्मीद करनी चाहिए’
अश्विन ने कहा- ‘पहले दिन पिच का पेस बॉलर्स को मदद करना, फिर बैटिंग अच्छी करना और आखिरी 2 दिन में गेंद का टर्न होना। क्या यह अच्छी पिच का उदाहरण है? किसी ने ऐसा नियम बनाया है क्या? अब हमें इस सोच से ऊपर आना चाहिए।’ उसी इंग्लिश पत्रकार के यह पूछने पर कि अगले टेस्ट में वह क्या उम्मीद करते हैं? अश्विन ने जवाब में यही सवाल पत्रकार से पूछा। इस पर पत्रकार ने जवाब देते हुए कहा कि एक अच्छा क्रिकेट मैच। अश्विन ने फिर कहा कि आपको पिच की चिंता छोड़कर यही उम्मीद करनी चाहिए। यही सही है।

युवराज समेत कई पूर्व क्रिकेटर्स ने उठाए थे सवाल
अश्विन ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट में 400 विकेट पूरे किए थे। वे ऐसा करने वाले श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन के बाद दूसरे सबसे तेज गेंदबाज हैं। तीसरे टेस्ट के बाद युवराज सिंह समेत दुनिया के कई पूर्व खिलाड़ियों ने पिच को लेकर सवाल उठाए थे। युवराज ने एक सोशल मीडिया पोस्ट में लिखा था- दो दिन में टेस्ट खत्म। समझ नहीं आ रहा कि इसे एक अच्छा टेस्ट क्रिकेट कहूं या नहीं। अगर अनिल कुंबले और हरभजन सिंह को इस तरह के विकेट पर गेंदबाजी करने का मौका मिलता, तो वे 800 या 1000 विकेट ले लेते।

‘युवी पा के लिए मेरे दिल में सम्मान, उन्होंने कुछ गलत नहीं कहा’
युवराज के पोस्ट को लेकर अश्विन ने कहा कि मैं उनके बयान को आलोचना के तौर पर नहीं देखता। जब मैंने उनका पोस्ट पढ़ा, तो मुझे लगा कि वे यह बताने की कोशिश कर रहे हैं कि हमारे देश के कई पूर्व गेंदबाज कितने अच्छे थे। चाहे वे कुंबले हों या हरभजन। जिस तरह के स्टेट ऑफ माइंड में मैं फिलहाल हूं, मैं इस पोस्ट को किसी गलत तरीके से नहीं लेना चाहता। मेरे दिल में युवी पा के लिए सम्मान है।

‘प्रोडक्ट की तरह अब विचारों की भी बिक्री होने लगी है’
हालांकि, तीसरे टेस्ट में ज्यादातर इंग्लिश खिलाड़ी स्ट्रेट डिलिवरी पर आउट हुए थे। पिच को लेकर सवाल उठने के बाद अश्विन ने शुक्रवार को एक सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था। इसमें उन्होंने लिखा था कि जिस प्रकार किसी प्रोडक्ट को लेकर मार्केटिंग की जाती है। उसी प्रकार अब विचारों की भी मार्केटिंग हो रही है। किसी ने एक बयान दिया और इसके बाद उसी विचार को अन्य लोग उठाकर बेच रहे हैं। ऐसा लग रहा कि कोई अपना आइडिया देने को लेकर समर्थ नहीं है। इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर काफी शेयर भी किया गया।

‘लोगों को कुछ बोलने से पहले खुद की समझ होनी चाहिए’
अश्विन ने कहा कि ज्यादातर लोग भारत के टेस्ट जीतने के बाद खुश होकर घर लौटते हैं। वे कहते हैं कि हां टीम इंडिया ने अपनी मेहनत से मैच जीता। पर कुछ लोग घर जाकर खुश नहीं होते और कहते हैं कि टीम इंडिया ने खुद से नहीं बल्कि पिच की वजह से मैच जीता। इसके बाद वे बाकी लोगों की मानसिकता को भी उसी प्रकार ढालने की कोशिश करते हैं। मैं नहीं चाहता कि लोग इस तरह का कुछ भी सोचें। वैसे लोगों की अपनी समझ होनी चाहिए।

‘न्यूजीलैंड दौरे पर क्यों किसी ने कुछ नहीं कहा’
अश्विन ने कहा- ‘पिच के बारे में बात करना हमारी समझ से बाहर है। आप उन पिचों के बारे में बात क्यों नहीं करते, जहां हमें हार मिलती है। जब हम किसी दूसरे देश में खेलते हैं, तब कोई क्यों नहीं इस पर बात करता है। जब हम न्यूजीलैंड गए और दोनों टेस्ट मैच 5 दिन के अंदर खत्म हो गए, तब किसी ने भी इसके बारे में बात नहीं की। मुझे नहीं लगता है कि हमें ऐसे विचारों को बढ़ावा देना चाहिए।’

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *