• Hindi News
  • Sports
  • India Vs Australia: Shardul Thakur Said, Restricted Australia Batsmen To Play Off Cuts And Pulls, India Need Players Like T Natarajan, Steven Smith World Class Player

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कैनबरा28 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे में शार्दूल ठाकूर ने 10 ओवर में 51 रन देकर 3 विकेट लिए।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी वनडे में टीम इंडिया की जीत में तेज गेंदबाज शार्दूल ठाकुर ने अहम भूमिक निभाई। उन्होंने 10 ओवर में 51 रन देकर 3 विकेट लिए। मैच के बाद शार्दूल ने कहा कि उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को पुल और कट शॉट खेलने से रोकने की रणनीति बनाई थी, जो काम कर गई। उन्होंने टी नटराज की भी तारीफ की और कहा कि टीम को ऐसे ही तेज गेंदबाज की जरूरत है।

पुल और कट शॉट खेलने से रोका

शार्दूल ने कहा, ‘ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने पूरी सीरीज में भारत के खिलाफ रन स्कोर करने के लिए पुल और कट शॉट्स खेले हैं। मैंने उन्हें ये शॉट नहीं लगाने दिया। मैंने उन्हें स्ट्रेट शॉट खेलने के लिए मजबूर किया, जो कि सही साबित हुआ। मुझे लगता है कि कभी-कभी हमें किस्मत का भी साथ मिलता है।’

स्टीव स्मिथ टॉप क्लास बैट्समैन

शार्दूल ने कहा, ‘जब स्टीव स्मिथ बैटिंग कर रहे थे, तो हमने एक रणनीति के तहत बॉलिंग। हमने उन्हें ऑफ स्टंप पर खेलाया। लेकिन लेग साइड जा रही बॉल उनके बैट में लगी और वे कैच आउट हो गए। मेरे लिए यह बेहद खुशी की बात रही। स्मिथ टॉप क्लास बैट्समैन हैं। मैच की शुरुआत में उनका विकेट मिलना बड़ी बात थी।’

नटराजन ने शानदार वापसी की

शार्दूल ने नटराजन की भी तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘नटराजन शानदार गेंदबाज हैं। उन्होंने IPL में भी अच्छा प्रदर्शन किया था। उन्होंने अपने पहले मैच में भी शानदार गेंदबाजी की। यह दिखाता है कि वे बड़े प्लेयर हैं। भारत को ऐसे ही गेंदबाज की जरूरत है। उन्होंने मैच में रन पड़ने के बावजूद शानदार वापसी की।’

टीम को जीत दिलाने के लिए आत्मविश्वास जरूरी

शार्दूल ने कहा, ‘व्हाइट बॉल फॉर्मेट में आपको रन पड़ेंगे। जरूरी यह है कि आप वापसी करो और खुद को साबित करो। आपको अपने अंदर कॉन्फिडेंस लाने की जरूरत होती है, ताकि आप अपनी टीम को जीत दिला सको।’

44वें ओवर में मैक्सवेल-एस्टन ने 18 रन बंटोरे

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे में नटराजन ने इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया। उन्होंने मैच में 10 ओवर में 70 रन देकर 2 विकेट लिए। ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्सवेल और एस्टन एगर ने पारी के 44वें ओवर में उनकी गेंदबाजी के दौरान 18 रन बंटोरे। जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया 30 बॉल में 39 रन चाहिए थे। हालांकि, नटराजन ने वापसी की और 46वें और 48वें ओवर (2 ओवर) में सिर्फ 8 रन दिए।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *