• Hindi News
  • Sports
  • India Vs Australia T 20 Series Virat Kohli Said Natarajan Could Be Great For India Heading Into T20 World Cup

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सिडनीएक घंटा पहले

नटराजन ने टी-20 सीरीज के 3 मैच में 13.83 की औसत से सबसे ज्यादा 6 विकेट लिए। 

भारतीय कप्तान विराट कोहली (85) की शानदार फिफ्टी के बावजूद भारत को मंगलवार को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेले गए तीसरे टी-20 मुकाबले में आस्ट्रेलिया के हाथों 12 रनों से हार मिली। भारत ने हालांकि इस हार के बावजूद 3 मैचों की टी-20 सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली। कोहली ने ऑस्ट्रेलिया को चेतावनी देते हुए कहा कि इस बार की भारतीय टीम पिछली बार से ज्यादा मजबूत है। उन्होंने कहा कि आगामी टी-20 वर्ल्ड कप के लिए टी नटराजन एक शानदार विकल्प होंगे।

शमी-बुमराह की गैरमौजूदगी में नटराजन का शानदार प्रदर्शन

कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह की गैरमौजूदगी में नटराजन ने शानदार बॉलिंग की। वे अपना डेब्यू सीरीज खेल रहे थे। वे सीरीज के दौरान कंपोज्ड और कूल दिखे। वे काफी मेहनती हैं। उम्मीद करता हूं कि वे अपने गेम पर और मेहनत करेंगे।

उन्होंने कहा, ‘एक बाएं हाथ का तेज गेंदबाज टीम के लिए हमेशा शानदार होता है। अगर वे अपने फॉर्म को वर्ल्ड कप तक जारी रखते हैं, तो हमारे लिए इससे अच्छी बात नहीं होगी।’ नटराजन ने टी-20 सीरीज के 3 मैच में 13.83 की औसत से सबसे ज्यादा 6 विकेट लिए।

सीरीज जीत के साथ 2020 खत्म करना अच्छा रहा

कोहली ने कहा, ‘तीसरे टी-20 में एक समय जब हार्दिक ने खेलना शुरू किया, तो हमने सोचा कि हम इसे जीत सकते हैं। बीच के ओवरों में हमारी बल्लेबाजी सही नहीं रही। अगर 30 रन की और साझेदारी होती तो हार्दिक के लिए थोड़ा आसान होता। हम वापसी की राह पर थे, लेकिन सीरीज जीत के साथ 2020 सीजन को समाप्त करना हमारे लिए थोड़ा अच्छा है।’

पिछली बार से ज्यादा मजबूत है भारतीय टेस्ट टीम

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि सीरीज में फैंस ने भी काफी हौसला बढ़ाया। वे हमेशा आपको अच्छा खेलने के लिए प्रेरित करते हैं। कोहली ने टेस्ट सीरीज को लेकर कहा, हमारी टीम पहले से ज्यादा मजबूत है। हमें काम्पटीटिव होने की जरूरत है। ऑस्ट्रेलिया की टीम भी अच्छी है। उनके बॉलर्स वर्ल्ड क्लास हैं। आपको मैच में खुद की जगह टीम के लिए खेलने की जरूरत होती है।’

खुद की जगह पार्टनरशिप पर ध्यान देने की जरूरत

कोहली ने कहा, ‘हमने खुद के स्कोर की जगह पार्टनरशिप पर ज्यादा ध्यान दिया है, चाहे वह बॉलिंग पार्टनरशिप हो या बैटिंग पार्टनरशिप। मुझे लगता है कि पूरी टीम ने इसी पर ध्यान दिया है। मुझे लगता है कि मैं भी खुद को सभी फॉर्मेट में आसानी से ढाल रहा हूं। मैंने अपने गेम पर थोड़ा काम किया है।’

17 दिसंबर से शुरू होगी टेस्ट सीरीज

भारत को अब 17 दिसंबर से ऑस्ट्रेलिया के साथ 4 मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है। भारत ने इससे पहले 2018 में ऑस्ट्रेलिया को उनकी धरती पर 2-1 से हराकर पहली बार टेस्ट सीरीज जीती थी। हालांकि, कोहली पहले टेस्ट मैच के बाद अपने पहले बच्चे के जन्म के लिए भारत लौट जाएंगे। भारतीय टीम उनके बिना ही बाकी के तीन मैच खेलेगी। अजिंक्य रहाणे उनकी गैरमौजूदगी में टीम की कमान संभालेंगे।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *