टॉप न्यूज़


  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • India Vs Australia Boxing Day Test Player Of The Match Ajinkya Rahane Win Johnny Mullagh Medal

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मेलबर्न15 घंटे पहले

अजिंक्य रहाणे ने मेलबर्न टेस्ट की पहली पारी में 112 और दूसरी पारी में नाबाद 27 रन की पारी खेली।

भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को मेलबर्न में खेले गए बॉक्सिंग-डे टेस्ट में 8 विकेट से हरा दिया। इसमें टीम इंडिया के कप्तान अजिंक्य रहाणे को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया। इसी के साथ क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) ने रहाणे को मुलाग मेडल से सम्मानित किया। CA ने टेस्ट से पहले ही प्लेयर ऑफ द मैच को मुलाग मेडल देने की घोषणा कर दी थी।

रहाणे ने टेस्ट की पहली पारी में 223 बॉल पर 112 रन की पारी खेली थी। इस दौरान उन्होंने 12 चौके जड़े थे। इसके बाद दूसरी पारी में रहाणे ने 40 बॉल पर नाबाद 27 रन बनाए और टीम को जीत दिलाई। मैच में ऑस्ट्रेलिया ने 70 रन का टारगेट दिया था।

टेस्ट सीरीज 1-1 से बराबर
भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 4 टेस्ट की सीरीज 1-1 से बराबर हो गई। सीरीज का पहला मैच एडिलेड में डे-नाइट खेला गया था। इसमें ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 8 विकेट से शिकस्त देकर 1-0 की बढ़त बनाई थी। इस मैच की दूसरी पारी में भारतीय टीम ने टेस्ट इतिहास का अपना सबसे कम 36 रन का स्कोर बनाया था।

जॉनी मुलाग के नाम पर रखा मेडल का नाम।

जॉनी मुलाग के नाम पर रखा मेडल का नाम।

मेडल का नाम 152 साल पहले ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रहे जॉनी मुलाग के नाम पर रखा गया। मुलाग 1868 में पहली बार विदेश दौरे पर जाने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान थे। टीम का यह इंग्लैंड दौरा था। मुलाग ने 45 टेस्ट की 71 पारी में 1698 रन बनाए। उन्होंने 1877 ओवर बॉलिंग भी की। इस दौरान 831 मेडन ओवर डाले थे। उन्होंने 257 विकेट लिए। मुलाग ने 1866 में मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर एक बॉक्सिंग-डे टेस्ट भी खेला था।

26 दिसंबर से खेला जाता है बॉक्सिंग-डे टेस्ट
हर साल 26 से 30 दिसंबर तक होने वाले मैच को बॉक्सिंग डे टेस्ट कहा जाता है। बॉक्सिंग-डे वास्तव में ‘क्रिसमस बॉक्स’ (क्रिसमस गिफ्ट) से बना शब्द है। क्रिसमस के अगले दिन ज्यादातर देशों में छुट्टी होती है। इस दिन क्रिसमस बॉक्स गिफ्ट करने का भी रिवाज है।

1868 में पहली बार विदेश दौरे पर जाने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम की फोटो मेडल पर लगी है।

1868 में पहली बार विदेश दौरे पर जाने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम की फोटो मेडल पर लगी है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *