• Hindi News
  • Sports
  • In Batting, Our Players Dominate, 11 Times Out Of 14 To Score 80+ Indians; Foreigners Thrive In Bowling

दुबईएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
  • लीग के चारों शतक भारतीयों ने लगाए

लगभग दो तिहाई मुकाबले खत्म हो चुके हैं। अब तक 14 बार 80+ का स्कोर बना है।‌ इसमें से 11 बार भारतीय खिलाड़ियों ने ऐसा किया है। यानी 79 फीसदी। मंगलवार तक लीग में 38 मैच हुए, जिनमें 4 शतक लगे हैं। ये सभी भारतीयों के नाम हैं। वहीं, लीग के टॉप-5 हाइएस्ट स्कोरर में 4 भारतीय हैं। लेकिन गेंदबाजी में विदेशी खिलाड़ी हावी हैं। रबाडा हर 12वीं गेंद पर एक विकेट ले रहे हैं।

मयंक-धवन ने दो-दो बार 80+ स्कोर किया, चारों शतक ओपनरों ने लगाए

धवन-मयंक ने दो बार 80+ की पारी खेली। ईशान, बेयरस्टो, कोहली, श्रेयस, प्लेसिस, सैमसन, वॉटसन, राहुल त्रिपाठी, रोहित ने एक-एक बार ऐसा किया है। 200+ रन बनाने वाले खिलाड़ियों के स्ट्राइक रेट में पोलार्ड टाॅप पर हैं। उन्होंने 200 के स्ट्राइक रेट से 208 रन बनाए हैं। डिविलियर्स (190) दूसरे पर हैं।

टाॅप-5 बेस्ट गेंदबाजी प्रदर्शन में चार विदेशी, विकेट-स्ट्राइक में रबाडा टॉप पर

गेंदबाजों के टाॅप-5 बेस्ट प्रदर्शन में 4 विदेशी हैं। बुमराह, रबाडा, मॉरिस ने 4-4 विकेट लिए हैं। चौथे-पांचवें पर राशिद हैं। उन्होंने 2 बार 3-3 विकेट लिए। चहल-शमी ने 2-2 बार 3 विकेट लिए हैं। 10+ विकेट लेने वाले गेंदबाजों के स्ट्राइक रेट की बात करें तो रबाडा ने 11.3 के स्ट्राइक रेट से 21 विकेट लिए हैं।

डू प्लेसिस 10 कैच लेने वाले एकमात्र खिलाड़ी

चेन्नई की ओर से फाफ डू प्लेसिस ने 10 मैच में सबसे ज्यादा 10 कैच पकड़े हैं। हेटमायर, पोलार्ड और राहुल तेवतिया ने 7-7 कैच पकड़े हैं। इसके अलावा पडीक्कल, शुभमन, मयंक अग्रवाल और सैम करेन ने 6-6 कैच पकड़े हैं। बतौर विकेटकीपर चेन्नई के कप्तान धोनी ने सबसे ज्यादा 15 शिकार किए हैं। दिल्ली के पंत और मुंबई के डीकॉक ने 10-10 शिकार किए हैं।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *