Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अहमदाबाद32 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

टेस्ट सीरीज 3-1 से अपने नाम करने के बाद टीम इंडिया अब इंग्लैंड के खिलाफ 12 मार्च से पांच टी-20 मैचों की सीरीज में दो-दो हाथ करने उतरेगी। भारतीय टीम जोरदार फॉर्म में है और टी-20 में वह पिछली सात सीरीज से अजेय है। साथ ही इंग्लैंड की टीम किसी टी-20 सीरीज में भारत को पिछले पांच साल से नहीं हरा पाई है।

आखिरी बार फरवरी 2019 में हारी थी भारतीय टीम
टी-20 क्रिकेट में भारतीय टीम को किसी द्विपक्षीय सीरीज में आखिरी हार फरवरी 2019 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मिली थी। भारत में खेली गई उस सीरीज में कंगारू टीम ने 2-0 से जीत हासिल की थी। इसके बाद भारतीय टीम वेस्टइंडीज को दो बार और बांग्लादेश, श्रीलंका, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया को 1-1 बार हरा चुकी है। साउथ अफ्रीका से सीरीज ड्रॉ रही थी।

इंग्लैंड को घर-बाहर दोनों हराया
भारतीय टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ पिछली लगातार दो द्विपक्षीय टी-20 सीरीज में जीत हासिल की है। 2017 में भारत में खेली गई सीरीज में भारतीय टीम 2-1 से जीती। इसके बाद 2018 में इंग्लैंड में हुई तीन मैचों की सीरीज में भी टीम इंडिया ने 2-1 के अंतर से जीत हासिल की थी। इस बार भी अगर भारत को जीत मिलती है तो यह उसकी इंग्लैंड पर सीरीज जीत की हैट्रिक होगी।

दूसरी बार पांच मैचों की सीरीज खेलेगी भारतीय टीम
यह सिर्फ दूसरा मौका होगा, जब टीम इंडिया पांच टी-20 मैचों की द्विपक्षीय सीरीज में उतरेगी। इससे पहले भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 2020 की शुरुआत में पांच मैचों की सीरीज खेली थी। ICC वर्ल्ड टी-20 को ध्यान में रखते हुए अभी टीमें टी-20 मैचों पर वनडे की तुलना में ज्यादा जोर दे रही हैं। इसी साल भारत में वर्ल्ड टी-20 का आयोजन होना है।

इंग्लैंड के खिलाफ बराबरी का मौका
भारत ने भले ही इंग्लैंड के खिलाफ पिछली दो टी-20 सीरीज में जीत हासिल की है, लेकिन उससे पहले इंग्लैंड की टीम चार में से तीन द्विपक्षीय सीरीज में भारत को मात दे चुकी है। उन तीनों सीरीज में 1-1 मैच ही खेले गए थे। 2012 में दो मैचों की सीरीज 1-1 से ड्रॉ रही थी। यानी अगर इस बार भारतीय टीम जीत हासिल करती है तो वह तीन सीरीज की जीत के साथ इंग्लैंड की बराबरी कर लेगी।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *