• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Rohit Sharma’s Captaincy In The Last Overs Did Wonders, India Beat England As Well As Toss And Dew

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अहमदाबाद18 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

टीम इंडिया ने चौथे टी-20 मैच में इंग्लैंड को 8 रन से हरा दिया। भारत की यह जीत इस सीरीज की सबसे खास जीत है। खास इसलिए क्योंकि सीरीज में पहली बार पहले बैटिंग करने वाली टीम जीती है। इस लिहाज से भारत ने इस मुकाबले में न सिर्फ इंग्लैंड को हराया बल्कि टॉस और ओस को भी मात दे दी। इन सबके पीछे पांच कारण प्रमुख रहे। चलिए सभी कारणों को जानते हैं। पांचवां कारण सबसे पहले और सबसे महत्वपूर्ण पहला कारण आखिर में। तो चलिए शुरू करते हैं…

5. पावर प्ले में अच्छी बैटिंग
टीम इंडिया ने इस सीरीज में पहली बार टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए पावर-प्ले में अच्छा खेल दिखाया। इससे पहले दो बार जब यह नौबत आई तो पावर प्ले के 6 ओवर में भारत का स्कोर 22/3 और 24/3 रहा था। लेकिन, इस मैच में ऐसा नहीं हुआ। रोहित शर्मा ने मैच की पहली गेंद पर छक्का जमाया। नतीजतन भारत ने पावर प्ले में 45/1 का स्कोर बना दिया।

4. शाम ढलने के बाद सूर्य का उदय
सूर्य कुमार यादव को नंबर तीन पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया। उन्होंने करियर की पहली गेंद पर छक्का जमाकर पारी की शुरुआत की। वे भारतीय बल्लेबाजी के लिए नया सूर्योदय साबित हुए। उन्होंने 31 गेंदों पर 57 रन बना दिए और भारतीय टीम पहले तीन मैचों में जो करना चाह रही थी वो कर के दिखा दिया। यानी शुरुआत से आक्रमण। 183.87 के स्ट्राइक रेट वाली उनकी पारी ने भारत की पारी को पंख दे दिए जिसकी उड़ान 20 ओवर में 185/8 के स्कोर पर जाकर ही थमी।

3. श्रेयस अय्यर की पांचवीं गियर वाली बैटिंग
सूर्यकुमार ने अगर भारतीय पारी को उड़ान दी तो श्रेयस अय्यर ने इसे वह रफ्तार दी जिसने इंग्लैंड के गेंदबाजों को हक्का-बक्का कर दिया। नंबर-6 पर उतरते हुए अय्यर ने 205.56 के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी की और इसकी बदौलत टीम इंडिया 150-160 के औसत स्कोर से ऊपर उठकर 185 रन तक जा पहुंची। यह आखिर में भारत की जीत के प्रमुख कारणों में शुमार हुआ।

2. शार्दूल ने डाला इंग्लैंड की पारी का चमत्कारी 17वां ओवर

भारतीय टीम के 185 रन के स्कोर के जवाब में इंग्लैंड की टीम 16 ओवर तक अच्छी स्थिति में थी। 16 ओवर में इंग्लैंड का स्कोर 4 विकेट पर 140 रन था। यानी आखिरी 4 ओवर में 46 रन की जरूरत थी जो भारी ओस के बीच काफी आसान चुनौती लग रही थी। लेकिन शार्दूल ने 17वें ओवर की पहली गेंद पर बेन स्टोक्स और दूसरी गेंद पर इंग्लिश कप्तान इयोन मोर्गन को आउट कर मैच लगभग भारत की झोली में डाल दिया।

1. आखिरी ओवरों में रोहित की कूल कप्तानी

मैच के आखिरी कुछ ओवरों में कप्तान विराट कोहली हल्की चोट के कारण बाहर चले गए और मुश्किल स्थिति में टीम की कमान पांच बार के IPL चैंपियन कप्तान रोहित शर्मा के हाथों में आ गई। रोहित की कूल कप्तानी भारत की जीत की बड़ी वजह साबित हुई। आखिरी ओवर में एक समय शार्दूल ठाकुर दबाव में आ गए थे। लेकिन, रोहित ने स्थिति संभाल ली। उन्होंने शार्दूल से कहा… जो आइडिया तुम्हारे दिमाग में है उस पर भरोसा करो और बॉलिंग करो। वे चाहते तो अपना आइडिया शार्दूल पर थोप सकते थे। लेकिन, उन्होंने ऐसा नहीं किया।

रोहित जानते थे कि जिस गेंदबाज ने मैच में वापसी कराई है वह मैच में जीत भी दिलाएगा। उनकी यह रणनीति कामयाब रही और शार्दूल ने मैच में जीत दिलाकर टीम इंडिया को सीरीज में 2-2 की बराबरी पर ला दिया।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *