• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Khelo India Scheme Extended Till 2025 26 Sports Minister Kiren Rijiju Announced In Rajya Sabha

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्लीएक मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
खेल मंत्री किरण रिजिजू (बाएं) ने 8 महीने पहले वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2021 की घोषणा की थी। यह गेम्स इस साल हरियाणा के पंचकुला में होंगे। - Dainik Bhaskar

खेल मंत्री किरण रिजिजू (बाएं) ने 8 महीने पहले वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2021 की घोषणा की थी। यह गेम्स इस साल हरियाणा के पंचकुला में होंगे।

खेलो इंडिया स्कीम को 4 साल के लिए बढ़ा दिया गया है। पहले यह गेम्स की स्कीम 2021-22 सीजन में खत्म होने वाली थी, लेकिन इसे 2025-26 के लिए बढ़ा दिया गया है। यह घोषणा खेल मंत्री किरण रिजिजू ने सोमवार को राज्यसभा में की।

खर्च का एस्टीमेट वित्त मंत्रालय को भेजा गया
रिजिजू ने कहा कि मंत्रालय ने खेलो इंडिया स्कीम को 2021-22 से 2025-26 तक बढ़ाने का फैसला किया है। इन 4 सालों में गेम्स पर कुल 8750 के खर्च का अनुमान है। इसका एस्टीमेट वित्त मंत्रालय को भेज दिया गया है। खेलो इंडिया स्कीम के तहत 2021-22 सीजन के लिए 657.71 करोड़ रुपए मंजूर कर दिया गए हैं।

टोक्यो ओलिंपिक के बाद होंगे यूथ गेम्स 2021
कोरोना के कारण पिछले साल नवंबर-दिसंबर में होने वाले खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2020 रद्द कर दिए गए थे। जबकि 2021 गेम्स इस साल टोक्यो ओलिंपिक के बाद होंगे। इनकी मेजबानी हरियाणा के पंचकुला को मिली है। हालांकि, यूथ गेम्स का अभी शेड्यूल जारी नहीं किया गया है। टोक्यो ओलिंपिक इस साल 23 जुलाई से 8 अगस्त तक होंगे।

स्कूल से यूनिवर्सिटी तक ऐसे पहुंचा खेलो इंडिया
पहले खेलो इंडिया स्कूल गेम्स दिल्ली में 31 जनवरी से 8 फरवरी 2018 तक हुए थे। इसमें अंडर-17 के खिलाड़ियों शामिल हुए थे। दूसरी बार यह गेम्स 2019 में महाराष्ट्र के पूणे में 9 से 20 जनवरी तक हुए थे। इसमें स्कूल के साथ अंडर-21 के खिलाड़ियों को भी शामिल किया गया था। तीसरी बार में यूनिवर्सिटी गेम्स भी शुरू किया गया। ताकि अंडर-25 के खिलाड़ियों को भी प्लेटफॉर्म मिल सके। यह तीसरे खेल इंडिया स्कूल और यूथ गेम्स इसी साल 10 से 22 फरवरी तक गुवाहटी में हुए थे। जबकि खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स उड़ीसा में हुए।

देश के टॉप खिलाड़ियों और टीमों को मिलता है मौका
खेलो इंडिया में स्कूल नेशनल गेम्स और दूसरे खेल एसोसिएशन के नेशनल टूर्नामेंट्स के टॉप-8 खिलाड़ियों और टीमों को खेलने का मौका मिलता है। इसमें से भी टॉप खिलाड़ियों को सेलेक्ट कर उन्हें स्कॉलरशिप दी जाती है।

सिलेक्टेड 1000 खिलाड़ियों को हर साल 5 लाख रुपए स्कॉलरशिप मिलती है
हर साल बेस्ट करने वाले 1000 खिलाड़ियों को इंटरनेशनल चैम्पियनशिप की तैयारी के लिए 8 साल के लिए 5 लाख रुपए स्कॉलरशिप हर साल दी जाती है। इनमें से उन्हें एक लाख 20 हजार रुपए पॉकेट मनी के रूप में दी जाती है और बाकी रकम उनके रहने, खाने-पीने और ट्रेनिंग पर खर्च की जाती है।

मनु भाकर और सौरभ चौधरी जैसे खिलाड़ी खेलो इंडिया से निकले
खेलो इंडिया के तहत चयनित कई खिलाड़ी इंटरनेशनल स्तर पर मेडल जीत कर टारगेट ओलिंपिक पोडियम स्कीम में शामिल हो चुके हैं। स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (साई) के अधिकारी के मुताबिक, वेटलिफ्टर जेरेमी लालरिननुंगा, शूटर सौरभ चौधरी, मनु भाकर, स्वीमर श्री हरी नटराज खेलो इंडिया से ही निकले हैं। मनु भाकर, सौरभ चौधरी ओलिंपिक कोटा भी हासिल कर चुके हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *