Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इस्लामाबाद9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
भारत-पाकिस्तान टीम पिछली बार 2019 वनडे वर्ल्ड कप में आमने-सामने आई थीं। तब इंग्लैंड के मेनचेस्टर वनडे में टीम इंडिया ने पाकिस्तान को 89 रन से शिकस्त दी थी। - Dainik Bhaskar

भारत-पाकिस्तान टीम पिछली बार 2019 वनडे वर्ल्ड कप में आमने-सामने आई थीं। तब इंग्लैंड के मेनचेस्टर वनडे में टीम इंडिया ने पाकिस्तान को 89 रन से शिकस्त दी थी।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) इस साल एशिया कप नहीं कराना चाहता। उसकी जगह जून में पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) कराई जा सकती है। PSL को मार्च में ही होना था, जिसे कोरोना के कारण अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया गया। वहीं, एशिया कप जून में शेड्यूल था। इसमें भारत की B टीम खेलने वाली थी, क्योंकि 18 जून को ही टीम इंडिया को न्यूजीलैंड से साउथैम्पटन में वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का फाइनल भी खेलना है।

अभी इस खबर की पुष्टि नहीं हुई है, लेकिन PCB सूत्रों की मानें तो बोर्ड और PSL फ्रेंचाइजीज के बीच हुई वर्चुअल मीटिंग में एशिया कप टालने पर सहमति बनी है। इस फैसले के बाद कहा जा रहा है कि पाकिस्तान बोर्ड शायद इंडिया की B टीम से डर गया है। क्योंकि यही B टीम ऑस्ट्रेलिया उसी के घर में टेस्ट में हरा चुकी है।

2023 के लिए टल सकता है एशिया कप
PCB के चेयरमैन एहसान मनी ने कहा कि टी-20 फॉर्मेट में होने वाले एशिया कप में कुछ टीमों का शामिल होना मुश्किल लग रहा है। ऐसे में इस साल इस टूर्नामेंट के होने की उम्मीद बेहद कम है। इसे 2023 के लिए टाला जा सकता है। हालांकि एशियन क्रिकेट काउंसिल की अगली मीटिंग में एशिया कप की नई तारीखों को लेकर चर्चा हो सकती है।

अप्रैल में पाकिस्तान को साउथ अफ्रीका से सीरीज खेलना है
PSL सीजन-6 के 34 में से 14 मैच हो चुके हैं। इस दौरान कुछ खिलाड़ी समेत स्टाफ के सदस्य कोरोना संक्रमित पाए गए थे। इस कारण टूर्नामेंट को टाल दिया गया। मीटिंग में एक-दो फ्रेंचाइजी ने लीग को अप्रैल में कराने की बात कही, लेकिन इसी महीने में पाकिस्तान को साउथ अफ्रीका से सीरीज खेलना है। एहसान मनी ने कहा कि पाकिस्तान बोर्ड सीरीज टालकर साउथ अफ्रीका से रिश्ते खराब नहीं करना चाहता।

भारत की B टीम ने ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में हराया था।

भारत की B टीम ने ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में हराया था।

साल के शुरुआत में भारत ने 4 टेस्ट की सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में 2-1 से हराया था। भारत की यह इस सदी की सबसे बड़ी सीरीज जीत मानी गई, क्योंकि टीम में विराट कोहली, रोहित शर्मा, इशांत शर्मा, भुवनेश्वर कुमार जैसे सीनियर खिलाड़ी नहीं थे। रोहित दो ही टेस्ट खेल सके थे। साथ ही 7 खिलाड़ी चोट की वजह से टीम में नहीं थे। इसके बावजूद नए टैलेंट के दम पर टीम इंडिया सीरीज जीतने में कामयाब रही।

भारत की बॉलिंग अटैक में मोहम्मद सिराज, शार्दूल ठाकुर, टी नटराजन, नवदीप सैनी, वॉशिंगटन सुंदर जैसे नए गेंदबाज थे। आखिरी टेस्ट से पहले इनका कुल टेस्ट एक्सपीरियंस सिर्फ 4 टेस्ट का था। इसी कारण इसे भारत की B टीम की जीत माना गया।

एशिया कप में 6 टीमें शामिल होंगी
एशिया कप में कुल 6 टीमें लेंगी। ये हैं- भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका, अफगानिस्तान और बांग्लादेश। छठवीं टीम का फैसला क्वॉलिफायर के जरिए होगा।

भारत ने 7 बार खिताब जीता
1984 में पहला एशिया कप संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में खेला गया था। टूर्नामेंट हर 2 साल में होता है। 2018 का एशिया कप भी यूएई में ही खेला गया था। टीम इंडिया ने अब तक 7, श्रीलंका 5 और पाकिस्तान 2 बार विजेता बना। बांग्लादेश टीम अब तक यह ट्रॉफी नहीं जीत पाई है।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *