दुबईएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

आईपीएल के व्यूअरशिप बढ़ने से बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली खुश। उन्होंने कहा-IPLम-13 में बहुत कुछ देखने को मिला। फाइल फोटो

BCCI प्रेसिडेंट सौरव गांगुली इंडियन प्रीमियर लीग के रेटिंग और व्यूअरशिप की संख्या बढ़ने से खुश हैं। इस साल IPL मार्च में होना था। लेकिन कोरोना की वजह से इसे अनिश्चित काल के टाल दिया गया था। बाद में बीसीसीआई ने इस पर महीनों विचार- विमर्स करके टूर्नामेंट को 19 सितंबर से 10 नवंबर तक यूएई में कराने का निश्चय किया था।

सौरव गांगुली ने स्टार स्पोर्ट्स क्रिकेट लाइव से व्यूअरशिप ​​​​​​​की संख्या पर बातचीत करते हुए कहा”अविश्वसनीय लेकिन मैं हैरान नही हूं। जब हम स्टार(ऑफिसियल ब्रॉडकास्टर) और अन्य लोगों से बातचीत कर रहे थे, तब मैने उनसे कहा था कि हमें हार हाल में इस साल टूर्नामेंट का आयोजन करना है। टूर्नामेंट से एक महीने पहले तक हम सोचते थे कि क्या हम बायो – बबल में टूर्नामेंट का आयोजन कर सकते हैं या नहीं। इसका अंतिम परिणाम क्या होगा। क्या यह सफल होगा।”

गांगुली बोले- फीडबैक से हैरान नहीं हूं

उन्होंने आगे कहा”हमने फैसला किया कि हम अपनी योजना को लेकर आगे बढ़ेंगे। क्योंकि हम सभी जीवन को सामान्य ढर्रे पर लाना चाहते थे। और हम खेल को वापस लाना चाहते थे। मैं फीडबैक से हैरान नहीं हूं। यह दुनिया का सर्वश्रेष्ठ टूर्नामेंट है।

शुरुआती हफ्ते में आईपीएल की व्यूअरशिप बढ़ी

बार्क निल्सन रिपोर्ट के अनुसार टूर्नामेंट के शुरूआती हफ्ते में 269मिलियन व्यूअरशिप रहा । जबकि पिछले साल की तुलना में प्रति मैच 11 मिलियन ज्यादा लोगों ने देखा। यही नहीं पिछले साल की तुलना में प्रति मिनट 15 प्रतिशत ज्यादा लोगों ने मैच को देखा।

आईपीएल में सबकुछ देखने को मिला

बीसीसीआई अध्यक्ष ने कहा” इतने सारे सुपर ओवर हुए। हमने हाल ही में डबल सुपर ओवर देखा। हमने शिखर धवन की बेहतरीन बल्लेबाजी देखी। हमने रोहित शर्मा को देखा, हमने युवा खिलाड़ियों को खेलते हुए देखा। हम लोगो ने देखा कि किस तरह किंग्स इलेवन पंजाब की टीम को केएल राहुल ने पॉइंट टेबल में सबसे नीचे से ऊपर लेकर आए। उन्होंने आगे कहा “यहां आपको सबकुछ मिल जाएगा! आपको मैं यह बता सकता हूं कि यह आईपीएल रेटिंग और दर्शकों की संख्या में इस बार सबसे ज्यादा सफल हुआ। ”



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *