40 साल पहले छूटी पढ़ाई बेटियों ने शुरू कराई: 62 साल के BJP विधायक BA की परीक्षा देने पहुंचे; कहा- स्कूलों में भाषण देते वक्त शर्मिंदगी महसूस होती थी


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • MLA Phool Singh Meena, Who Reached The BA Examination At The Age Of 62, Started Studies After 40 Years With The Inspiration Of Daughters.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

उदयपुर10 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
फूल सिंह मीणा वर्धमान महावीर ओपन यूनिवर्सिटी के उदयपुर सेंटर पर पेपर देने पहुंचे। - Dainik Bhaskar

फूल सिंह मीणा वर्धमान महावीर ओपन यूनिवर्सिटी के उदयपुर सेंटर पर पेपर देने पहुंचे।

राजस्थान की राजनीति की परीक्षा में 2 बार पास हो चुके BJP विधायक फूल सिंह मीणा अब BA की पढ़ाई कर रहे हैं। उन्होंने विषय भी पॉलिटिकल साइंस चुना है। मंगलवार को उनका पेपर था। एक समय घर में ऐसे हालात बने कि मीणा को स्कूल से ही पढ़ाई छोड़नी पड़ी थी। इसके बाद पार्षद बने, विधायक बन गए लेकिन पढ़ाई न कर पाने की कसक दिल में जगह बनाए हुए थी। इसी दौरान बेटियों ने मोटिवेट किया तो उन्होंने दोबारा पढ़ाई शुरू कर दी।

वर्धमान महावीर ओपन यूनिवर्सिटी के उदयपुर सेंटर पर पेपर देने पहुंचे फूल सिंह मीणा ने कहा कि राजनीति के साथ पढ़ाई भी काफी जरूरी है। इसी को ध्यान में रखते हुए मैंने 40 साल बाद फिर से पढ़ाई शुरू की थी। BA पास करने के बाद वह Phd की तैयारी करेंगे।

मीणा ने बताया कि पहली बार विधायक बनने के बाद मुझे स्कूलों में होने वाले कार्यक्रम में बुलाया जाता था। इस दौरान बच्चों के सामने भाषण देते वक्त मुझे काफी शर्मिंदगी महसूस होती थी। मुझे लगता था मैं खुद पढ़ा-लिखा नहीं हूं और इन्हें पढ़ने की शिक्षा देता हूं। अब मुझे ऐसा नहीं लगता। मैं जहां भी जाता हूं, छोटे बच्चों के साथ बड़ों को भी पढ़ने की सलाह देता हूं।

एग्जामिनेशन सेंटर पर बॉडी टेम्परेचर चेक करने के बाद ही फूल सिंह मीणा को एंट्री दी गई।

एग्जामिनेशन सेंटर पर बॉडी टेम्परेचर चेक करने के बाद ही फूल सिंह मीणा को एंट्री दी गई।

स्कूल में छूट गई थी पढ़ाई
मीणा ने बताया कि पिता की मौत के बाद परिवार की जिम्मेदारी आने से उन्हें स्कूली पढ़ाई छोड़नी पड़ी थी। परिवार चलाने के लिए वे खेती करने लगे। 2013 में उन्होंने पहली बार विधायकी का चुनाव लड़ा। इसमें जीत भी गए। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बेटियों से मिली प्रेरणा से उन्होंने फिर पढ़ाई शुरू की। फूल सिंह मीणा उदयपुर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र से दूसरी बार BJP के विधायक बने हैं। इससे पहले वह उदयपुर नगर निगम में पार्षद थे।

दिन भर के कार्यक्रमों के बाद फूल सिंह मीणा घर पहुंचते हैं। इसके बाद बेटियां उन्हें पढ़ाती हैं।

दिन भर के कार्यक्रमों के बाद फूल सिंह मीणा घर पहुंचते हैं। इसके बाद बेटियां उन्हें पढ़ाती हैं।

बेटियों को पढ़ाने में कसर नहीं छोड़ी
मीणा ने बताया कि बेटियों ने 2013 में ओपन स्कूल से 10वीं कक्षा के लिए फार्म भरवा दिया। विधायक बनने के बाद व्यस्तता बढ़ गई और वह 2014 में परीक्षा नहीं दे पाए। बेटियों ने 2015 में फिर से फार्म भर दिया। इस बार उन्होंने 10वीं की परीक्षा पास कर ली। इसके बाद 2016-2017 में वह 12वीं में पास हो गए। अभी वह ग्रेजुएशन में लास्ट इयर की परीक्षा दे रहे हैं।

मीणा भले खुद अब अपनी पढ़ाई पूरी कर रहे हैं, लेकिन उन्होंने अपनी पांचों बेटियों को पढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। 4 बेटियां पोस्ट ग्रैजुएशन कर चुकी हैं। एक बेटी पुणे में लॉ कर रही है। दिन भर कार्यक्रमों रहने के बाद जब वह घर पहुंचते हैं तो बेटियां उन्हें पढ़ाती हैं।

अच्छे नंबर लाने वाली छात्राओं को प्लेन का सफर कराते हैं
फूल सिंह मीणा सरकारी स्कूल में पढ़ने वाली छात्राओं को 80% से ज्यादा अंक लाने पर प्लेन का सफर कराते हैं। वे 2016 से यह मुहिम चला रहे हैं। मीणा अब तक 50 से ज्यादा छात्राओं को प्लेन से जयपुर ले जा चुके हैं। वहां उन्हें विधानसभा भवन दिखाने ले जाते हैं। छात्राओं को मुख्यमंत्री और अधिकारियों से भी मिलवाया जाता है।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *