सबसे महंगी क्रिप्टोकरेंसी: एक बिटकॉइन 14.62 लाख रुपए का, 175% की बढ़ोतरी के साथ इस साल के रिकॉर्ड हाई लेवल पर


  • Hindi News
  • Business
  • Cryptocurrency Bitcoin Register High Level Of 2020 At 19873 Dollar Per Unit

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली18 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन इस साल रिकॉर्ड लेवल पर पहुंच चुका है। सोमवार को बिटकॉइन में 9% की बढ़ोतरी दर्ज हुई। इसके साथ ही यह 19,860 डॉलर यानी करीब 14 लाख 62 हजार रुपए प्रति यूनिट के इस साल के रिकॉर्ड हाई लेवल पर पहुंच गया है। इससे पहले, दिसंबर 2017 में बिटकॉइन 19,873 डॉलर प्रति यूनिट तक पहुंचा था। यानी तब के हिसाब से एक बिटकॉइन की कीमत करीब 13 लाख रुपए थी।

2020 में अब तक 175% की ग्रोथ

बिटकॉइन के लिए 2020 काफी ग्रोथ वाला साबित हुआ है। इस साल अब तक इसकी कीमत 175% बढ़ चुकी है। कोरोना के बाद मार्च में बिटकॉइन की कीमत 4000 डॉलर प्रति यूनिट के नीचे चली गई थी। लेकिन, अब डॉलर के कमजोर होने की वजह से बिटकॉइन ने तेजी से वापसी की है। अमेरिका की ब्रोकरेज और ट्रेडिंग फर्म eToro के मैनेजिंग डायरेक्टर गे हिर्ष का कहना है- इंडिविजुअल और असेट मैनेजर बड़ी संख्या में बिटकॉइन की खरीदारी कर रहे हैं। इस समय करीब 365 बिलियन डॉलर के बिटकॉइन सर्कुलेशन में हैं।

क्रिप्टोकरेंसी में तेजी की एक वजह ये भी

दुनिया की सबसे बड़ी असेट मैनेजमेंट फर्म ब्लैकरॉक (BLK) ने अनुमान जताया है कि सेफ हेवन चॉइस के तौर पर बिटकॉइन एक दिन गोल्ड की जगह ले सकता है। इसे भी बिटकॉइन की कीमतों में तेजी की वजह माना जा रहा है। छोटी क्रिप्टोकरेंसी में शुमार इथेरियम, XRP, लाइटकॉइन और स्टेलर की कीमतों में बढ़ोतरी की वजह से भी बिटकॉइन में तेजी आ रही है।

2008 में हुई थी बिटकॉइन की खोज

बिटकॉइन की खोज 2008 में हुई थी। आधिकारिक रूप से बिटकॉइन 2009 में लॉन्च हुआ था। भारत में अभी बिटकॉइन समेत किसी भी क्रिप्टोकरेंसी को कानूनी मान्यता नहीं मिली है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *