ipl


मुरैना/भोपाल2 घंटे पहले

गिर्राज दंडोतिया शिवराज सरकार में राज्यमंत्री हैं और दिमनी से उपचुनाव में भाजपा के प्रत्याशी हैं।

  • कमलनाथ ने डबरा में शिवराज सरकार में मंत्री इमरती देवी को आइटम कह दिया था
  • इसके बाद मंत्री बिसाहूलाल साहू ने कांग्रेस प्रत्याशी की पत्नी को रखैल कह दिया था

मध्यप्रदेश के उपचुनाव में भाजपा-कांग्रेस के नेताओं का एक-दूसरे के लिए अमर्यादित भाषा का उपयोग थमने का नाम नहीं ले रहा है। मुरैना के दिमनी में हुई सभा में भाजपा प्रत्याशी और शिवराज सरकार में मंत्री गिर्राज दंडोतिया ने कमलनाथ को लेकर विवादित बयान दिया है।

दंडोतिया ने कहा कि डबरा की जगह दिमनी होता तो कमलनाथ की यहां से लाश उठकर जाती। गुरुवार को दिमनी के कमतरी में हुई इस सभा में ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मंच पर मौजूद थे। आज ही मुरैना के अंबाह और जौरा में कमलनाथ ने भी अपने प्रत्याशियों के समर्थन में सभाएं की हैं।

राज्यमंत्री दंडोतिया यहीं नहीं रुके। उन्होंने कांग्रेस के एक नेता के व्यक्तिगत जीवन पर टिप्पणी करते हुए कहा, ’75 साल का बुड्ढा 45 साल की महिला को शादी करके घर ले आया। घर में बहू लाने की उम्र में सास ले आया। हमारे यहां कोई ऐसा करता तो उसे घर से ही निकाल देते।’

दिमनी से भाजपा प्रत्याशी गिर्राज दंडोतिया ने कहा, ‘डबरा में कमलनाथ ने का कह दियो, पतो है। अपनी चंबल में अपनी मां-बहन को कोई ऐसा बोल दे तो कत्ल होय जावो। ये तो बढ़िया भई कि कमलनाथ डबरा में रहे। अनुसूचित जाति की गरीब महिला हुई। माता-बहन किसी भी जाति की हो वो अपनी होती है। वो तो बढ़िया हुई डबरा में कहा, दिमनी तरफ कहा होता तो यहां से लाशें उठकर जातीं।’

हालांकि, इसके पहले गिर्राज दंडोतिया बोल रहे थे तो सभा से जय-जय कमलनाथ के नारे भी लग रहे थे।

“हमने एसपी से कह दिया तो मोटरसाइकिलों की चेकिंग बंद हो गई”
दिमनी में आयोजित सभा में राज्यमंत्री गिर्राज दंडौतिया ने यह भी कहा कि हमने एसपी से कहा तो हमारे यहां मोटरसाइकिलों की चेकिंग बंद हो गई। अपनी ठेठ भाषा में कहा कि घर से सामान लेने के लिए जाते वक्त पुलिस चेकिंग में पकड़ लेती है। सामान के पैसा चालान भरने में चलते जाते हैं। इसलिए हमने एसपी से कह दिया कि अब चेकिंग मत करना।

राज्यमंत्री के बयान पर कांग्रेसियों ने FIR दर्ज करने की मांग की
शिवराज सरकार में राज्यमंत्री गिर्राज दंडौतिया द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, दिग्विजय सिंह के ऊपर अभद्र व अशोभनीय टिप्पणी किए जाने के विरोध में कांग्रेस उग्र हो गई है। गुरुवार की रात 7.30 बजे जिला कांग्रेस अध्यक्ष दीपक शर्मा के नेतृत्व में दर्जनों कांग्रेसियों ने कलेक्टोरेट पर राज्यमंत्री के खिलाफ नारेबाजी की और पुलिस व प्रशासनिक अफसरों को ज्ञापन सौंपकर राज्यमंत्री के खिलाफ FIR दर्ज करने की मांग की।

राज्य में उपचुनावों में लगातार गिर रहा बयानबाजी का स्तर

मध्य प्रदेश के उपचुनावों में बयानबाजी का स्तर गिरता जा रहा है। पहले कमलनाथ ने डबरा की सभा में इमरती देवी को आइटम कहा। इसके बाद शिवराज सरकार के एक मंत्री बिसाहूलाल साहू ने कांग्रेस प्रत्याशी की पत्नी को रखैल कह दिया। चुनाव में वीडियो भी वायरल किए जा रहे हैं। हालांकि, कमलनाथ के बयान को लेकर चुनाव आयोग ने सख्ती दिखाते हुए नोटिस जारी किया है, जिसका जवाब उन्हें 48 घंटे के अंदर देना है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *