मनी लॉन्ड्रिंग केस: संजय राउत की पत्नी ED के सामने पेश नहीं हुईं, उन्हें तीसरी बार समन भेजा गया था


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबईएक महीने पहले

  • कॉपी लिंक
शिवसेना नेता संजय राउत पत्नी वर्षा के साथ। ED को वर्षा के अकाउंट में हुए ट्रांजेक्शन के मामले में पूछताछ करनी है। - फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar

शिवसेना नेता संजय राउत पत्नी वर्षा के साथ। ED को वर्षा के अकाउंट में हुए ट्रांजेक्शन के मामले में पूछताछ करनी है। – फाइल फोटो।

शिवसेना सांसद संजय राउत की पत्नी वर्षा मंगलवार को भी प्रवर्तन निदेशालय (ED) के सामने पेश नहीं हुईं। उन्होंने कुछ और वक्त मांगा है। वर्षा को तीसरी बार समन मिला था। इससे पहले भी दो बार पेश नहीं हुईं थीं। ED PMC बैंक में मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच कर रहा है। ED वर्षा से 55 लाख रुपए के उस ट्रांजैक्शन के बारे में पूछताछ करना चाहता है जो उनके खाते में जमा हुए थे।

ये सवाल पूछे जा सकते हैं

  • ED इस मामले में 55 लाख रुपए की लेनदेन की जांच कर रही है। ED जानना चाहता है कि 55 लाख रुपए दिए जाने का आधार क्या था?
  • क्या इसके लिए ब्याज लिया जाना था और यदि हां तो कितना?
  • ये पैसा कब लौटाना था? क्या इसकी कोई किस्त चुकाई गई?
  • पैसा देने का मकसद केवल लोन था या कुछ और?
  • संजय राउत परिवार से ऐसी क्या नजदीकियां थीं, जिसके चलते लोन दिया गया? क्या यह अन-सिक्योर्ड था?

संजय राउत का भाजपा पर निशाना
पत्नी को नोटिस मिलने पर संजय राउत ने सोमवार को कहा, “कुछ वरिष्ठ नेता मुझ पर महा विकास अघाड़ी को समर्थन जारी न रखने के लिए कह रहे हैं। उन्होंने हमारी सरकार गिराने की पूरी तैयारी कर ली है। मुझे अपनी बात साबित करने के लिए 22 NCP और शिवसेना विधायकों की सूची भी दिखाई गई।” संजय ने साफ कर दिया कि भाजपा द्वारा शिवसेना-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी-कांग्रेस गठबंधन की सरकार को गिराने की धमकियां दी जा रही हैं, इसके बावजूद सरकार नहीं गिरेगी।

‘मुझ से पंगा मत लो’
राउत ने आगे कहा, “यह एक राजनीतिक युद्ध है। हम इसे केवल राजनीतिक रूप से लड़ेंगे। पंगा मत लो। मैं स्वर्गीय बालासाहेब ठाकरे का शिवसैनिक हूं। मैं आप सभी को बेनकाब करूंगा। मेरे पास 120 भाजपा नेताओं की सूची है, जिनकी जांच ED पांच साल तक कर सकती है। उन्हें नीरव मोदी या विजय माल्या की तरह विदेश भागना पड़ेगा।”

कैसे शुरू हुआ यह मामला?
मामला HDIL से संबंधित है। HDIL के वाधवा बंधु को PMC बैंक घोटाले में गिरफ्तार किया गया था। वाधवा परिवार ने करोड़ों रुपये लोन बैंक से लिए और चुकाने में नाकाम रहे। वाधवा बंधुओं के करीबी माने जाते हैं प्रवीण राउत। यही प्रवीण राउत शिवसेना सांसद संजय राउत के भी करीबी दोस्त हैं। प्रवीण की पत्नी माधुरी के अकाउंट से करीब 55 लाख रुपए संजय की पत्नी वर्षा के अकाउंट में ट्रांसफर किए गए। ED वर्षा से इसी लेनदेन के बारे में पूछताछ करना चाहता है।

हलफनामे में भी जानकारी दी थी
संजय राउत ने 2016 में अपने राज्य सभा चुनाव के वक्त जो शपथ पत्र दिया था, उसमें भी माधुरी से वर्षा के अकाउंट में 55 लाख लोन लेने का जिक्र है। मुंबई से करीब 125 किलोमीटर दूर अलीबाग के किहिम बीच के किनारे राउत परिवार ने प्रॉपर्टी खरीदी थी। किहिम बीच से करीब 600 मीटर दूरी पर नॉन एग्रीकल्चर लैंड के 10 प्लाट खरीदे गए। इस जमीन का मालिकाना हक संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत और स्वप्ना पाटकर के नाम पर है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *