ipl


  • Hindi News
  • Bihar election
  • Narendra Modi Nitish Kumar (Bihar) Election 2020 Rally Update | PM Modi Rally Latest News Live Updates Today; Darbhanga Patna Muzaffarpur

पटना29 मिनट पहले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को सबसे पहले बिहार के दरभंगा में चुनावी रैली की। उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण शुरू हो चुका है। जो लोग कभी इसकी तारीख पूछते थे, अब वे भी तालियां बजा रहे हैं। पहले की सरकारों को मंत्र था- पैसा हजम, परियोजना खत्म। बिहार में जंगलराज लाने, लूटने वालों को फिर हराएंगे।

दरभंगा मोदी के भाषण की 6 अहम बातें

1. मजबूरी में ताली बजानी पड़ रही
मिथिला के महान लेखक विद्यापति जी ने सीता मैया से प्रार्थना की थी। आज देखें तो बीते 15 वर्षों में नीतीश जी के नेतृत्व में बहुत आगे बढ़ा है। माता सीता आज अपने नैहर को निहार रही होंगी। सदियों की तपस्या के बाद अब अयोध्या में भव्य निर्माण शुरू हो गया है। वो सियासी लोग जो बार-बार तारीख पूछा करते थे, बहुत मजबूरी में अब वो भी तालियां बजा रहे हैं। माता सीता के इस क्षेत्र में आकर मैं यहां के लोगों के लोगों को राम मंदिर निर्माण की बधाई देता हूं, क्योंकि आप उसके प्रमुख हकदार हैं। भाजपा और एनडीए की पहचान यही है कि जो कहते हैं वो करके दिखाते हैं।

2. राजद का नाम लिए बगैर हमला
पहले की सरकारों का मंत्र था- पैसा हजम, परियोजना खत्म। उन्हें कमीशन शब्द से इतना प्रेम था कि कनेक्टिविटी पर कभी ध्यान ही नहीं दिया। कोसी सेतु के साथ क्या हुआ, मैं बहुत अच्छे से जानता हूं। केंद्र में एनडीए के सरकार बनने के बाद और यहां नीतीश जी का सहयोग मिलने के कारण इस सेतु का निर्माण पूरा हो पाया। इससे 300 किमी की दूरी 20-22 किलोमीटर में सिमट गई। बिहार के लोगों को ऐसे ही विकास के कामों को वोट करना है।

जिनकी ट्रेनिंग कमीशनखोरी की हो, वो बिहार के हित में नहीं सोच सकता। ऐसे लोगों के राज में अपराध इतना फला-फूला कि लोगों का जीना मुश्किल हो गया। ये वो लोग हैं जो कर्जमाफी में भी घोटाले कर जाते हैं, ये वो लोग हैं जो लोगों को रोजगार देने को भी कमाने का जरिया मानते हैं। ये बिहार के विकास की परियोजनाओं के पैसे पर नजरें गड़ाए बैठे हैं।

3. किसान के खाते में पैसे पहुंचे, गरीबों को मुफ्त गैस कनेक्शन मिला
आज किसान के खाते में एक लाख करोड़ रुपए की मदद जमा कराई जा चुकी है। करीब 40 करोड़ लोगों का खाता खुल चुका है। हमने कहा था कि हर गरीब बेटी के घर में मुफ्त गैस कनेक्शन पहुंचाएंगे, हमने बिहार की करीब 90 लाख बेटियों को धुएं से मुक्त किया है। हमने मुफ्त इलाज का वादा किया था, आज बिहार के भी हर गरीब को यह सुविधा मिल रही है।

4. छठ पूजा तक मुफ्त राशन
कोरोना के संकट में कहा था कि हर गरीब को मुफ्त में अनाज देंगे, यह भी हो रहा है। दुनिया को अचरज हो रहा है कि इतनी बड़ी व्यवस्था हम इतने बड़े संकटकाल में कर पाए। छठ पूजा तक मुफ्त राशन की व्यवस्था की है।

5. 11 लाख घरों में पाइप कनेक्शन
इस क्षेत्र में पानी से होने वाली बीमारियों की दिक्कत हमेशा से रही है। इसका समाधान है कि हर घर में पीने का शुद्ध पानी पहुंचे। मैं दरभंगा और मधुबनी की ही बात करूं तो यहां 11 लाख से ज्यादा घरों को पाइप कनेक्शन से जोड़ा गया है। जल्द ही बिहार देश के उन राज्यों में होगा, जहां पीने का पानी पाइप से ही पहुंचेगा। किसी मां को अपना लाल, अपनी लाड़ली को खोना नहीं पड़ेगा। एनडीए का यही ट्रेंड बिहार को आश्वस्त करने वाला है।

6. बिहार में रोजगार-स्वरोजगार लाएंगे
आत्मनिर्भर बिहार में उद्योग में नए अवसर बनेंगे। युवाओं के लिए रोजगार-स्वरोजगार लाएंगे। गरीबों के लिए जो 10% आरक्षण की व्यवस्था की गई है, उसका लाभ भी इस क्षेत्र के गरीबों को मिल रहा है। मिथिलांचल की कनेक्टिविटी को पीएम पैकेज से भी बहुत ताकत मिल रही है। इससे यहां हजारों किलोमीटर की सड़कों का काम हुआ है। 55 हजार करोड़ से भी अधिक बिहार के रोड़ नेटवर्क पर खर्च किए जा रहे हैं।

मुजफ्फरपुर में मोदी

गांवों के विकास पर जोर
यहां के किसान महिलाओं के पास अथाह सामर्थ्य है। हर जिला खास है। जैसे मुजफ्फरपुर में लीची है, आम है, चूड़ियां हैं, हस्तशिल्प है। जब बिहार में विकास का रोडमैप बना है तो इन उत्पादों के बाजार की संभावनाएं बढ़ गई हैं। सरकार गांवों में बेहतर सुविधाएं विकसित करने पर जोर दे रही है, उसका लाभ बिहार की जनता को भी मिलने वाला है। इसके लिए एक लाख करोड़ रुपए का स्पेशल फंड बनाया गया है। अब बिहार के गरीब से गरीब परिवार को वह मूलभूत सुविधाएं मिल रही हैं, जिनका उसने दशकों तक इंतजार किया।

भ्रष्टाचार के मौके तलाशे जा रहे
जिन लोगों को बिहार को कुशासन दिया, वे फिर से मौका तलाश रहे हैं। जिन लोगों ने बिहार के लोगों को पलायन दिया और अपनों को हजारों करोड़ का मालिक बना दिया, वे फिर इस मौके पर की तलाश में हैं।सरकारी नौकरी तो छोड़िए, इन लोगों का मतलब है कि प्राइवेट नौकरियां देने वाली कंपनियां भी यहां से नौ-दो-ग्यारह हो जाएंगी। रंगदारी दी तब बचेंगी, नहीं तो किडनैपिंग इंडस्ट्री का कॉपी राइट तो उन लोगों के पास ही है। इसलिए इन लोगों से सावधान रहना। इनकी राजनीति छूठ, फरेब और भ्रम पर आधारित है। इनके पास न तो तो बिहार के विकास का कोई रोडमैप है न ही योजना। बिहार को नीतीश जी के नेतृत्व में आगे ले जाना जरूरी है।

पिछली बार मोदी ने 370 का जिक्र किया था
चुनाव बिहार में हो रहा है और रैली भी बिहार में ही थी। लेकिन, मोदी ने मुद्दा कश्मीर का उठाया था। मोदी ने पिछली रैली में कहा था, “ये लोग (विपक्ष) कह रहे हैं कि सत्ता में आए तो आर्टिकल 370 फिर लागू कर देंगे। इतना सब कहकर ये बिहार के लोगों से वोट मांगने की हिम्मत कर रहे हैं। क्या ये बिहार के लोगों का अपमान नहीं है। ये लोग जिसकी चाहे मदद ले लें, देश अपने फैसलों से पीछे नहीं हटेगा।”



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *