तेजस का क्रेज घटा, यात्री इतने कम मिल रहे कि 30 मार्च तक मंगलवार की 17 ट्रिप रद्द की


  • Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Tejas’s Craze Reduced, Passengers Are Getting So Low That Till Tuesday, 30th Of March Trip Canceled

सूरत33 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पश्चिम रेलवे के सीपीआरओ सुमित ठाकुर ने बताया कि तेजस ट्रेन की बुकिंग ट्रेंड को ऑब्जर्व करते हुए यह निर्णय लिया गया है।

  • अहमदाबाद-मुंबई तेजस का किराया कम करने पर भी नहीं मिले यात्री
  • दूसरी तरफ एयरपोर्ट पर विमान के साथ यात्री भी बढ़े

लाॅकडाउन के बाद 17 अक्टूबर से दोबारा शुरू हुई अहमदाबाद-मुंबई तेजस एक्सप्रेस को यात्री ही नहीं मिल रहे हैं। पश्चिम रेलवे बुकिंग की समीक्षा के बाद नवंबर से मार्च 2021 तक कुछ मंगलवार की ट्रिप रद्द कर दी गई हैं। पांच महीने में 17 ट्रिप रद्द की गई हैं।

आईआरसीटीसी ने इसके किराये में 400 रुपए की कमी भी की, लेकिन यात्रियों की संख्या अपेक्षा के अनुरूप नहीं बढ़ी। बाद में किराया फिर से पहले जैसा कर दिया गया। 17 अक्टूबर की अप-डाउन ट्रिप में तेजस को 250-250 यात्री भी नहीं मिल सके थे। चेयर कार के कुल 10 कोच में 780 सीटें और एग्जिक्यूटिव के दो कोच में कुल 112 सीटें हैं।

5 माह तक इन दिनों रद्द रहेगी तेजस

  • 3 और 24 नवंबर
  • 1, 8 और 15 दिसंबर
  • 19 और 26 जनवरी
  • 2, 9 और 23 फरवरी
  • 2, 9, 16, 23 और 30 मार्च

कुछ मंगलवार को नहीं चलेगी

पश्चिम रेलवे के सीपीआरओ सुमित ठाकुर ने बताया कि तेजस ट्रेन की बुकिंग ट्रेंड को ऑब्जर्व करते हुए यह निर्णय लिया गया है। 82901/02 तेजस नवंबर से मार्च तक कुछ कुछ मंगलवार को रद्द रहेगी।

अभी हफ्ते में गुरुवार को बंद

82901/02 तेजस हफ्ते में गुरुवार को छोड़कर हर दिन अहमदाबाद से सुबह 6.40 बजे चलती है। सुबह 9.35 बजे सूरत पहुंचती है। दोपहर 1.10 बजे मुंबई सेंट्रल पहुंचती है।

एयरपोर्ट: ट्रैफिक ग्रोथ 30% बढ़ी, अक्टूबर में 500 विमानों व 58000 यात्रियों ने किया आवागमन

लाॅकडाउन में बंद घरेलू उड़ानें दोबारा शुरू होने के बाद से सूरत एयरपोर्ट पर ट्रैफिक ग्रोथ दिनों दिन बढ़ रही है। अक्टूबर में यात्री संख्या में 30% की बढ़ोतरी हुई है। अब रोज लगभग 2500 यात्रियों का आवागमन होने लगा है।

22 मार्च से पहले रोज 6 से 7 हजार यात्रियों की आवाजाही होती थी। मार्च में यह घटकर 200 से भी कम हो गई थी। अप्रैल से 25 मई तक ट्रैफिक ग्रोथ जीरो थी। 25 मई से उड़ानें बहाल होने के बाद सितंबर तक ट्रैफिक ग्रोथ 200, 500 तक बढ़ी।

अब रोज 30 उड़ानें हो रही संचालित

1 अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक सूरत एयरपोर्ट पर कुल 512 शेड्यूल एयरक्राफ्ट का आवागमन हुआ। इनमें 256 एयरक्राफ्ट गए और 256 एयरक्राफ्ट आए। इन विमानों में कुल 57642 यात्रियों ने यात्रा की। 32460 यात्री सूरत से रवाना हुए, जबकि 25182 यात्री दूसरे शहरों से यहां आए। इसमें कुल नॉन शेड्यूल विमान भी थे। अक्टूबर में 58000 यात्रियों आए-गए। अब यहां से रोज 30 उड़ानें संचालित हो रही हैं।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *