टॉप न्यूज़


अंकाराएक घंटा पहले

तुर्की और ग्रीस में शुक्रवार को भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 7 मापी गई है। इससे दोनों देशों में 419 लोग घायल हुए हैं। तुर्की के इजमिर शहर में 12 लोगों की जान गई है। वहीं, भूकंप के बाद दीवार गिरने से ग्रीस में दो बच्चों की मौत हो गई। यहां झटकों के बाद लोग दहशत में घरों से बाहर आ गए।

तुर्की में ज्यादा नुकसान की खबर है। यहां कई इमारतें भी जमींदोज हो गईं। झटकों के बाद समुद्र का स्तर बढ़ गया और तुर्की के शहर इजमिर में समुद्र का पानी भर गया। कुछ लोगों ने इसका वीडियो शेयर किया है।

107 आफ्टरशॉक आए

अनाडोलु न्यूज एजेंसी के अनुसार, रक्षा मंत्रालय ने भूकंप को लेकर एक क्राइसिस डेस्क बनाया है। दो मिलिट्री हेलिकॉप्टर सर्च और रेस्क्यू में लगे हुए हैं। भूकंप के बाद 107 आफ्टरशॉक आए, जिसमें से 21 की तीव्रता 4 से ऊपर थी। डिजास्टर एजेंसी के मुताबिक, 50 वाहनों और 200 रेस्क्यू वर्कर बचाव कार्य में जुटे हैं।

तुर्की के आपदा प्रबंधन विभाग ने बताया कि केवल बेराकली जिले में कम से कम 10 इमारतें गिर गईं। स्थानीय मीडिया में चल रहे कई वीडियोज में गिरी हुई इमारतें दिखाई दे रही हैं। कई अपार्टमेंट की दीवारों में बड़ी दरारें भी आ गईं हैं।

दक्षिणी तुर्की में भूकंप से गिरी इमारत के मलबे से महिला को बचाते रेस्क्यू टीम के मेंबर।

दक्षिणी तुर्की में भूकंप से गिरी इमारत के मलबे से महिला को बचाते रेस्क्यू टीम के मेंबर।

बता दें कि तुर्की का इजमिर प्रांत एक्टिव फॉल्ट लाइन पर है। प्रमुख उत्तरी अनातोलियन फॉल्ट लाइन के कारण 1999 में इस्तांबुल के पास काफी शक्तिशाली भूकंप आया था। इसमें 17,000 से ज्यादा लोग मारे गए थे। इस्तांबुल (1.55 करोड़) और अंकारा (57 लाख) के बाद आबादी के हिसाब से इजमिर तुर्की का तीसरा सबसे बड़ा शहर है। यहां की जनसंख्या करीब 43 लाख है।

सोशल मीडिया यूजर ने पोस्ट किया वीडियो

तुर्की के राष्ट्रपति बोले- मदद के लिए तैयार हूं

तुर्की के राष्ट्रपति रेजेप तैयप अर्दोआन ने ट्वीट किया कि वे सरकार के पास उपलब्ध सभी साधनों के साथ लोगों की मदद करने के लिए तैयार हैं। वहीं, हेल्थ मिनिस्टर फहरेतीन कोजा ने ट्विटर पर भूकंप से मौतों की पुष्टि की। उन्होंने लिखा कि इजमिर में लोग बचने के लिए घरों से भागकर सड़कों पर जमा हो गए। यहां कम से कम 20 इमारतें गिरी हैं।

इजमिर के गवर्नर यावुज सेलिम कोसगर ने कहा कि अब तक मलबे से 70 लोगों को रेस्क्यू किया जा चुका है। अनाडोलु न्यूज एजेंसी के अनुसार, रक्षा मंत्रालय ने भूकंप को लेकर एक क्राइसिस डेस्क बनाया है। दो मिलिट्री हेलिकॉप्टर सर्च और रेस्क्यू में लगे हुए हैं।

दुश्मनी भूल साथ आए दोनों देश

पूर्वी भूमध्य सागर में हाइड्रोकार्बन की खोज को लेकर तुर्की और ग्रीस के बीच काफी तनाव है। इसे भूलकर तुर्की और ग्रीस के विदेश मंत्रियों ने फोन पर बात की और एक दूसरे की मदद करने के लिए तैयार रहने का भरोसा दिया। यूनानी प्रधानमंत्री किरियाकोस मित्सोताकिस ने ट्विटर पर लिखा कि हमारे बीच कैसे भी मतभेद हों। यह समय हमारे लोगों के एक साथ खड़े होने का है। ग्रीस में भूकंप से 2 लोगों की मौत हुई है।

स्थानीय मीडिया के मुताबिक, भूकंप के बाद ग्रीस के समोस में सुनामी की तरह लहरें उठीं। इससे कई इमारतों को नुकसान पहुंचा है। कई घरों की दीवारें टूट गईं और बंदरगाह में बाढ़ आ गई। समोस की आबादी करीब 45 हजार है। यहां ज्यादातर कम ऊंचाई वाली इमारतें हैं। यहां के लोगों से तटीय इलाकों में न जाने की अपील की गई है।

अलग-अलग रही भूकंप की तीव्रता

  • तुर्की के आपदा और आपातकालीन प्रबंधन प्रेसिडेंसी ने बताया कि भूकंप का केंद्र एजियन सागर में 16.5 किलोमीटर गहराई पर था।
  • यूरोपियन-मेडिटेरियन सिस्मोलॉजिकल सेंटर ने कहा कि भूकंप की तीव्रता 6.9 थी। इसका केंद्र ग्रीक आइसलैंड समोस से 13 किलोमीटर उत्तर-पूर्व में था।
  • यूनाइटेड स्टेट्स जियोलॉजिकल सर्वे के मुताबिक, भूकंप की तीव्रता 7 थी।
सोशल मीडिया पर कई तस्वीरें सामने आ रही हैं।

सोशल मीडिया पर कई तस्वीरें सामने आ रही हैं।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *