छत्तीसगढ़ में एक परिवार के 5 लोगों के शव मिले: दुर्ग में पिता-पुत्र की लाश रस्सी से लटकी थी, पत्नी और दो बेटियों के शव जले हुए मिले


  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Dead Body Of Father And Son Hanged On Same Trap, Sensation Spread In The Area Due To Burnt Corpse Of 3 Women Outside The House

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भिलाई4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
घटना दुर्ग जिले के पाटन इलाके के बठेना गांव की है। घर के मुखिया का मोबाइल स्विच ऑफ आने पर भाई ने दोस्त को देखने के लिए भेजा तो घटना का खुलासा हुआ। - Dainik Bhaskar

घटना दुर्ग जिले के पाटन इलाके के बठेना गांव की है। घर के मुखिया का मोबाइल स्विच ऑफ आने पर भाई ने दोस्त को देखने के लिए भेजा तो घटना का खुलासा हुआ।

  • मां और बेटियों की हत्या कर खुदकुशी करने की आशंका, कर्ज के दबाव से परेशान था परिवार

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में शनिवार को एक ही परिवार के 5 लोगों के शव मिले हैं। पिता-पुत्र की लाश जहां एक ही रस्सी से लटक रही थी। वहीं मां और दो बेटियों के जले हुए शव घर से करीब 50 मीटर की दूरी पर पैरावट में मिले। सूचना मिलने पर पुलिस और FSL की टीम पहुंच गई। आशंका है कि घर की महिलाओं की हत्या के बाद पिता-पुत्र ने खुदकुशी की है। मामला पाटन थाना इलाके के बठेना गांव के रामबृज गायकवाड़ के परिवार से जुड़ा है।

रामबृज के तीनों फोन स्विच ऑफ आ रहे थे, तो भाई ने दोस्त को घर भेजा
रामबृज गायकवाड़ (52) गांव से कुछ दूरी पर बाड़ी में ही मकान बनाकर परिवार के साथ रहते थे। घर में उनकी पत्नी जानकी बाई (45), बेटा संजू (25) और बेटियां ज्योति (22) और दुर्गा (28) थे। शनिवार को रामबृज के भाई ने उनके तीनों मोबाइल नंबर पर कॉल लगाया लेकिन सभी स्विच ऑफ थे। इसके बाद रामबृज के भाई ने रामबृज के दोस्त लखन वर्मा को बताया और देखकर आने के लिए कहा। लखन दोपहर करीब 2.30 बजे घर पहुंचे तो रामबृज और उनके बेटे के लटके मिले।

इसके बाद लखन ने आसपास के लोगों को बताया और पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों के शवों को नीचे उतारा। इस बीच किसी ने बताया कि पैरावट में भी शव पड़े हुए हैं। पुलिस वहां पहुंची तो तीन महिलाओं के जले हुए शव मिले। उनकी शिनाख्त रामबृज की पत्नी और बेटियों के रूप में हुई है। घटना देर रात के बाद की बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि रामबृज ने कई लोगों से कर्ज ले रखा था। इसके चलते लेनदार उसे परेशान कर रहे थे।

कर्ज के दबाव से परेशान था परिवार
पुलिस को आशंका है कि कर्ज से परेशान होकर ही रामबृज और उसके बेटे ने पहले तीनों महिलाओं की हत्या की होगी और फिर खुद भी फंदा लगाकर जान दे दी। हालांकि महिलाओं की हत्या कैसे की गई, इस बारे में स्थिति साफ नहीं हो पाई है। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे हैं। रिपोर्ट आने पर ही स्थिति साफ हो पाएगी।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *