Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

बॉलीवुड एक्टर रितेश देशमुख आज अपना जन्मदिन मना रहे हैं। रितेश देशमुख का जन्म 17 दिसंबर, 1978 को हुआ था। रितेश ने ‘तुझे मेरी कसम’ से साल 2003 में अपने फिल्मी करियर की शुरूआत की। हालांकि, उनकी पहली फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कोई खास कमाल नहीं कर पाई लेकिन इस फिल्म का उनकी जिंदगी पर गहरा प्रभाव है।

दरअसल, इसी फिल्म के सेट पर उन्हें अपनी जीवन का प्यार मिला। फिल्म की हीरोइन जेनेलिया उनकी पत्नी बनीं। दोनों ने 2012 में शादी कर ली थी और अब दो बेटों के माता-पिता हैं। एक नजर डालते हैं रितेश-जेनेलिया की क्यूट लव स्टोरी पर…

ऐसे हुई पहली मुलाकात

रितेश-जेनेलिया ने एक इंटरव्यू में अपनी लव स्टोरी बताई थी। रितेश ने कहा था, मैं तुझे मेरी कसम के टेस्ट शूट के लिए हैदराबाद गया था। मुझे कहा गया कि वो लड़की भी वहां होगी जिसके साथ तुम्हें काम करना है। जब मैं एयरपोर्ट से बाहर आया तो जेनेलिया की मां से मुलाकात हुई। फिर मेरी नजर एक लंबी लड़की पर पड़ी जो कि दूसरी दिशा में देखकर मुझे इग्नोर कर रही थी। मैंने सोचा, ये ऐसा क्यों कर रही है।

जेनेलिया को थी गलतफहमी

जेनेलिया ने आगे की कहानी बताते हुए कहा, मुझे दो दिन पहले ही पता चला था कि रितेश मुख्यमंत्री के बेटे हैं तो मुझे लगा कि ये बिगड़ैल मिजाज के होंगे, जैसे नेताओं के बेटे अक्सर होते हैं, तो मैंने सोचा कि इससे पहले ये मुझे एटीट्यूड दिखाए क्यों ना मैं ही इसे एटीट्यूड दिखा दूं। लेकिन जब मैंने रितेश से बात की तो मैं समझ गई कि ये अच्छे इंसान हैं।

जेनेलिया को मिस करने लगे रितेश

रितेश बोले- हमने अनजानों की तरह एक-दूसरे के साथ काम करना शुरू किया। फिर एक दूसरे को समझने की कोशिश करने लगे। सेट्स के बाहर हम दोस्त बन गए। जब हैदराबाद शेड्यूल खत्म हुआ तो मैं जेनेलिया को मिस करने लगा। कई बार कॉल करने का मन किया लेकिन सोचा कि पता नहीं ऐसा करना ठीक होगा कि नहीं। जेनेलिया से प्यार का एहसास रातोंरात नहीं हुआ था। हम धीरे-धीरे एक-दूसरे के प्रति अपनी फीलिंग्स समझने लगे। दिन, महीने और साल बीत गए और फिर हमने 2012 में शादी कर अपने रिश्ते को अंजाम तक पहुंचा दिया।

रितेश ने इस इंटरव्यू में आगे कहा था कि जेनेलिया और उनकी बहुत कम लड़ाई होती है। दोनों के मतभेद होते हैं लेकिन दोनों कभी एक-दूसरे पर चिल्लाते नहीं हैं। अगर दोनों के बीच डिफरेंस होते हैं तो रितेश पहली पहल करके जेनेलिया को मना लेते हैं।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *